scorecardresearch
 

e-एजेंडा: तबलीगियों का गुनाह देश के मुस्लिमों का गुनाह नहीं- मुख्तार अब्बास नकवी

e-Agenda: मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि तबलीगी जमात वाले मामले में कानून अपना काम कर रहा है. इसमें चौंकाने वाली चीजें निकल कर आ रही है.

e-Agenda AajTak: मुख्तार अब्बास नकवी (फाइल फोटो) e-Agenda AajTak: मुख्तार अब्बास नकवी (फाइल फोटो)

  • रविशंकर बोले- तबलीगियों का गुनाह माफ करने लायक नहीं
  • कहा- तबलीगियों ने अलग-अलग जाकर फैलाया कोरोना

मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का एक साल पूरा होने पर आयोजित e-एजेंडा आजतक के मंच पर अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने मोदी सरकार की उपलब्धियों, कोरोना के संकट और अन्य मुद्दों पर बेबाकी से अपनी बात रखी.

तबलीगी जमात को लेकर उन्होंने कहा कि तबलीगियों ने जो गुनाह किया है, वह देश के मुसलमानों का गुनाह नहीं है. नकवी ने कहा कि तबलीगियों की वजह कोरोना का कहर पूरे देश में फैला. वे पूरे देश में घूमे और कोरोना कैरियर की तरह इसे फैलाया. उन्होंने कहा कि तबलीगियों ने जो गुनाह किया, वह माफ करने लायक नहीं है. कानून अपना काम कर रहा है. नकवी ने कहा कि तबलीगियों ने जो गुनाह किया, उसकी सजा कानून देगा.

e-एजेंडा की लाइव कवरेज देखें यहां

बजरंग दल जैसी भाषा बोलने के आरोपों पर नकवी ने कहा कि कुछ तबलीगी प्रायोजित लोगों ने तबलीगियों को कोरोना वॉरियर्स बताया. प्लाज्मा देते चार लोगों की तस्वीर खिंचवा ली और यह प्रचारित करना शुरू कर दिया कि ये तो प्लाज्मा बांट रहे हैं. इनसे किसने प्लाज्मा मांगा था.

e-एजेंडा: बचेंगे नहीं दिल्ली दंगों के दबंग, साजिशी सिंडिकेट- मुख्तार अब्बास नकवी

मुख्तार अब्बास नकवी ने तबलीगी जमात के बहाने ही कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी पर भी निशाना साधा और कहा कि यह तो ठीक उसी तरह है, जैसे उन्होंने सौ बसें खड़ी कर फोटो खिंचवा ली और प्रचारित करना शुरू कर दिया कि बसें खड़ी हैं. योगी सरकार ले नहीं रही है. उन्होंने कहा कि कानून अपना काम कर रहा है. इसमें चौंकाने वाली चीजें निकलकर आ रही है.

e-एजेंडा: नकवी बोले- देश की छवि खराब करने की कोशिश में जुटे हैं कुछ हिस्ट्रीशीटर

मौलाना साद पर कार्रवाई को लेकर सरकार के अंदर अलग-अलग डायरेक्शन और हाथ डालने से बचने के सवाल पर नकवी ने कहा कि यह इकबाल की सरकार है, ईमान की सरकार है, इंसाफ की सरकार है. यहां एक ही डायरेक्शन है. प्रधानमंत्री ही मंत्रिमंडल के साथ बैठकर देते हैं. यहां गांव, गरीब किसानों की रक्षा और सुरक्षा का ही डायरेक्शन चलता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें