scorecardresearch
 

कुछ लोग हैं जिनके चश्मे का पावर खराब है, उन्हें विकास नहीं दिखेगाः एलजी सिन्हा

एजेंडा आजतक 2021 के मंच पर जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने कहा कि बदलवा की शुरुआत उसी दिन से हुई जब वंचित लोगों को अधिकार मिलना शुरू हुआ. विकास के कार्य तेजी से हो रहे हैं, जिससे बदलाव तेजी से हो रहे हैं. ऐसे में कुछ लोग हैं, जिनके चश्मे के पावर कम हैं. उन्हें जम्मू-कश्मीर में हो रहे बदलाव नहीं दिखेंगा. 

X
स्टोरी हाइलाइट्स
  • जम्मू-कश्मीर में वंचितों को अधिकार मिल रहें
  • जम्मू-कश्मीर में आदिवासियों को जमीन मिली
  • प्रशासन शांति स्टैबलिश करने में विश्वास करता

जम्मू-कश्मीर से धारा 370 के हटाए जाने के बाद किस तरह के बदलाव हो रहे हैं. इसे लेकर एजेंडा आजतक 2021 के मंच पर जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने कहा कि बदलवा की शुरुआत उसी दिन से हुई जब वंचित लोगों को अधिकार मिलना शुरू हुआ. विकास के कार्य तेजी से हो रहे हैं, जिससे बदलाव तेजी से हो रहे हैं. ऐसे में कुछ लोग हैं, जिनके चश्मे के पावर कम हैं. उन्हें जम्मू-कश्मीर में हो रहे बदलाव नहीं दिखेंगा. 

मनोज सिन्हा ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में वंचितों को अधिकार मिल रहे हैं. आदिवासी समुदाय को खेती के लिए जमीन मिलने लगी. हमारे स्वीपर भाई बहन लोग स्वीपर के अलावा कोई काम नहीं कर सकते थे. जिन लोगों ने 70-72 साल मौलिक अधिकारों को खोया था उन्हें मिलने लगा. उपराज्यपाल ने कहा कि जम्मू कश्मीर की आबादी सवा करोड़ है..

जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने कहा कि मैं ये नहीं कहना चाहता हूं कि पिछले तीन राज्यों में बजट बहुत ज्यादा बढ़ गया लेकिन बढ़ा है. बिजली की बात करूं तो बिजली के क्षेत्र में कई विकास हुआ. जम्मू-कश्मीर के गांवों में ज्यादा बिजली देने पर काम हो रहा है. अरुणाचल और हिमाचल में हम 3500 मेगावाट बिजली उत्पादन करते हैं, जिसके जरिए बिजली जम्मू-कश्मीर को मिल पाएगी. 1500 किलोमीटर सड़क बनती थी, वहां हम काफी हैं. 

मनोज सिन्हा ने कहा कि 2018 में 67 हजार करोड़ खर्च करके कई प्रोजेक्ट पूरा किया था. इस साल कम खर्च करके ज्यादा प्रोजेक्ट पूरा किया. क्योंकि ट्रांसपरेंसी आई है. जम्मू कश्मीर में 3 मेडिकल कॉलेज थे, आज 4 और मिले हैं. जम्मू-कश्मीर में कुल 7 मेडिकल कॉलेज हो जाएंगे. ये सब बदलाव हो रहे हैं. कुछ लोग हैं जिनके चश्मे के पावर कम हैं उन्हें ये नहीं दिखेगा.

जम्मू-कश्मीर के लोगों को आश्वासन देते हुए मनोज सिन्हा ने कहा कि मैं प्रशासन और सरकार की नीति के बारे में बताना चाहता हूं कि समाज के अंतिम लोगों तक विकास पहुंचेगा. हमारा प्रशासन जो शांति स्टैबलिश करने में विश्वास करता है. मुझे पूरा भरोसा है कि वहां के आवाम को कोई दिक्कत नहीं है. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें