scorecardresearch
 

Raju Srivastava Last Rites: पंचतत्व में विलीन हुए राजू श्रीवास्तव, मौन हो गया सबको हंसाने वाला

कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव अब हमारे बीच नहीं रहे, इस पर यकीन करना बेहद मुश्किल है. मगर इस कड़वे सच को स्वीकारना ही होगा. राजू श्रीवास्तव के निधन से फैंस समेत फिल्म, टीवी, राजनीतिक जगत के लोग गमगीन हैं. सभी नम आंखों से कॉमेडियन को याद कर रहे हैं. राजू तो चले गए पर अपनी कॉमेडी की अनमोल विरासत दुनिया को सौंप गए.

X
राजू श्रीवास्तव राजू श्रीवास्तव
2:14

21 सितंबर, वो दिन जब पूरे देश की आंखें नम हुईं. सबको हंसाने वाले राजू श्रीवास्तव रूलाकर चले गए. राजू श्रीवास्तव ने 42 दिनों तक अस्पताल में जिंदगी से जंग लड़ने के बाद आखिरी सांस ली. उन्हें 10 अगस्त को जिम में वर्कआउट करते हुए कार्डियक अरेस्ट आया था. कई दिनों तक उनका इलाज चला. पर सबके चहेते गजोधर भैया बच नहीं सके. 

गुरुवार (22 सितंबर) को दिल्ली के निगमबोध घाट में राजू श्रीवास्तव का अंतिम संस्कार किया गया. राजू के भाई ने मुखाग्नि दी. कॉमेडियन को उनके परिवारवालों ने नम आंखों से विदा किया. राजू का परिवार टूट चुका है. उनके लिए ये पल चुनौती वाला है. पर दुख की इस घड़ी में राजू की पत्नी, बच्चे और बाकी परिवार मजबूती से खड़ा रहा.

पढें UPDATES...

अलविदा राजू श्रीवास्तव
सबको हंसाने वाला एक सितारा हमेशा के लिए मौन हो गया. कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव पंचतत्व में विलीन हुए. दिल्ली के निगमबोध घाट में राजू का अंतिम संस्कार किया गया. फैंस, परिजन और परिवार ने कॉमेडियन को नम आंखों से विदाई दी.

श्मशान घाट लाया गया राजू का पार्थिव शरीर

राजू श्रीवास्तव का पार्थिव शरीर निगमबोध घाट लाया गया. कॉमेडियन को आखिरी विदाई देने हास्य जगत के कई सितारे पहुंचे हैं. फैंस और परिजनों के पहुंचने का सिलसिला जारी है. कानपुर से राजू के कई दोस्त दिल्ली आए हैं. यूपी के पर्यटन मंत्री, सुनील पाल, मधुर भंडारकर भी श्मशान घाट पहुंचे हैं. लोग राजू श्रीवास्तव अमर रहे... के नारे लगा रहे हैं.

राजू की पत्नी शिखा श्रीवास्तव की तस्वीर सामने आई है. पति के अलविदा कह जाने से वे टूट गई हैं.

राजू श्रीवास्तव की पत्नी
मधुर भंडारकर

राजू के अंतिम संस्कार में नहीं पहुंचेंगे उनके भाई काजू

काजू अपने भाई राजू श्रीवास्तव के अंतिम संस्कार का हिस्सा नहीं बन सकेंगे. काजू अभी कानपुर में हैं. काजू बीमार हैं. उनकी पत्नी भी प्रेग्नेंट हैं. काजू को देखने ही राजू दिल्ली गए थे. दिल्ली के इसी दौरे पर राजू को कार्डियक अरेस्ट आया था. फिर अस्पताल में 42 दिन इलाज के बाद कॉमेडियन ने दम तोड़ा. मालूम हो, काजू और राजू दोनों ही एम्स में एडमिट रहे थे. कानपुर में काजू के घर के बाहर लोगों की भीड़ इकट्ठा है. सभी काजू से मिलकर उन्हें संवेदनाएं दे रहे हैं.

राजू श्रीवास्तव के अंतिम सफर में शामिल नहीं हो सके भाई काजू, आख‍िर क्या है वजह?

अंतिम सफर पर निकले राजू

राजू श्रीवास्तव का परिवार और करीबी लोग बस कुछ ही देर में दिल्ली के निगमबोध घाट पहुंचने वाले हैं. कॉमेडियन के द्वारका के घर (दशरथपुरी) से उनकी अंतिम यात्रा निकल चुकी है. एंबुलेंस में राजू का पार्थिव शरीर रखा गया है. गाड़ी को फूलों से सजाया गया है. गाड़ी पर कॉमेडियन की हंसती मुस्कुराती तस्वीर लगाई गई है. फैंस राजू के अंतिम दर्शन के लिए उमड़े हैं. हर किसी की आंखें नम हो रही हैं. फैंस फोन से राजू की तस्वीरें लेने की कोशिश करते दिखे.

अंतिम सफर पर निकले राजू श्रीवास्तव

42 दिनों से थे अस्पताल में भर्ती
राजू श्रीवास्तव को 10 अगस्त को कार्डियक अरेस्ट के बाद दिल्ली के एम्स में भर्ती कराया गया था. 58 साल के राजू श्रीवास्तव होटल की जिम में वर्कआउट कर रहे  थे. तभी अचानक ट्रेडमिल पर चल रहे राजू को कार्डियक अरेस्ट आया और वे नीचे गिर गए. इससे उनके सिर पर गंभीर चोट आई. राजू को दिल्ली के एम्स ले जाया गया. वे तुरंत वेंटिलेटर पर शिफ्ट किए गए. राजू को एम्स के एक्सपर्ट डॉक्टर्स ने बचाने की पूरी कोशिश की थी. बीच में राजू की तबीयत में सुधार होता हुआ भी नजर आ रहा था. उनकी बॉडी में मूवमेंट होने की खबरें  थीं. परिवार और फैंस को आस थी कि राजू ठीक हो जाएंगे. पर किसे पता था, राजू  यूं सभी की उम्मीदों को तोड़ते हुए अलविदा कह जाएंगे. राजू अपने पीछे पत्नी और दो बच्चों को छोड़ गए हैं. राजू श्रीवास्तव के परिवार पर गमों का पहाड़ टूट पड़ा है. ये पल राजू और उनके सभी चाहने वालों के लिए बेहद मुश्किल है.

21 सितंबर को क्या हुआ था, अचानक कैसे बिगड़ी राजू की तबीयत?
राजू श्रीवास्तव के साले साहब ने बताया था कैसे बुधवार रात अचानक उनकी तबीयत बिगड़ी थी. उनके मुताबिक, कॉमेडियन का बुधवार सुबह अचानक से ब्लड प्रेशर कम हुआ था. उन्हें सीपीआर दिया गया. पहले तो राजू ने रिस्पॉन्ड किया. फिर उन्होंने अंतिम सांस ली. राजू की सेहत में दिख रहा सुधार देख 2-3 दिन में उन्हें  वेंटिलेटर से हटाया जाना था. उनकी दवाईयों की डोज भी कम हो गई थी. पर सबको एक आस देकर राजू अलविदा कह गए.

सेलेब्स-फैंस ने दी श्रद्धांजलि
राजू श्रीवास्तव के यूं अचानक अलविदा कहने से सभी गमगीन हैं. सोशल मीडिया पर नम आंखों से फैंस और सेलेब्स कॉमेडियन को याद कर रहे हैं. उन्हें श्रद्धांजलि दे रहे हैं. वो चेहरा जो हमेशा हंसता हुआ ही नजर आया था, चाहे टीवी स्क्रीन हो या सोशल मीडिया अकाउंट,अपने शानदार सेंस ऑफ ह्यूमर की बदौलत करोड़ों लोगों के दिलों पर राज करने वाले राजू का यूं अलविदा कह जाना शॉकिंग है. एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में राजू की कमी कोई नहीं पूरी कर पाएगा. 

कॉमेडी शो से राजू को मिली थी पहचान
राजू श्रीवास्तव शोबिज इंडस्ट्री का जाना माना नाम थे. उन्होंने कई फिल्मों और शोज में काम किया था. रियलिटी शोज में भी राजू ने पार्टिसिपेट किया था. राजू को मगर पहचान कॉमेडी शो The Great Indian Laughter Challenge से मिली थी. इस शो से मिली सक्सेस के बाद राजू ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा था. वे करियर की बुलंदियों को छूते रहे. राजू श्रीवास्तव एक्टर, कॉमेडियन होने के साथ साथ नेता भी थे. वे बीजेपी से जुड़े थे. राजू का बिना किसी गॉडफादर के इतनी सफलता हासिल करना इंस्पायरिंग है. राजू के बारे में एक बात जो उनके सभी जानने वालों से सुनने को मिलेगी, वो थी उनकी नेक शख्सियत. राजू अच्छे कलाकार इसलिए भी थे क्योंकि वे बेहतरीन इंसान थे. जरूरतमंदों की मदद करने में राजू सबसे आगे रहते थे. वाकई में कहना पड़ेगा, राजू बस एक ही थे, उनके जैसा ना कोई था, ना कोई होगा. 

अलविदा कॉमेडी के शहंशाह राजू श्रीवास्तव.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें