scorecardresearch
 

केबीसी वाली कुर्सी पर बैठने से अमिताभ को होता था कमर दर्द, ये थी वजह

अमिताभ बच्चन ने इस बारे में बात करते हुए कहा था कि पहले साल, जब मैंने केबीसी शुरु किया, मुझे पीठ में दर्द होता था. पता ही नहीं चला और तीन साल चार तक वो दर्द मैं सहता रहा और मैं सोचता था कि वो इस कुर्सी की वजह से हो रहा है लेकिन...

अमिताभ बच्चन अमिताभ बच्चन

बॉलीवुड सुपरस्टार अमिताभ बच्चन ने केबीसी सीजन 11 के दौरान एक बेहद शॉकिंग बात बताई है. ट्यूबरक्लोसिस और हेपाटाइटिस बी पर एक डिस्कशन के दौरान अमिताभ बच्चन ने याद किया कि कैसे केबीसी के पहले सीजन के दौरान उनकी गलतफहमी उनके लिए परेशानी का सबब बन गई थी. दरअसल कौन बनेगा करोड़पति के पहले सीजन के दौरान ही अमिताभ को पीठ में दर्द होता था और उन्हें लगता था कि अपनी कुर्सी की वजह से उन्हें ऐसा फील हो रहा है लेकिन वजह कुछ और ही थी.

अमिताभ बच्चन ने इस बारे में बात करते हुए कहा था कि 'पहले साल, जब मैंने केबीसी शुरु किया, उस दिन से मुझे टीबी डिटेक्ट हुआ, ये स्पाइनल टीबी था. पता ही नहीं चला और तीन साल चार तक वो दर्द मैं सहता रहा और मैं सोचता था कि वो इस कुर्सी की वजह से हो रहा है लेकिन वो असल में ट्यूबरक्लोसिस था और इसका डिटेक्शन 4-5 साल बाद हुआ. उसके बाद मैंने इलाज कराया और ठीक हो गया.' उन्होंने आगे कहा, 'अगर मैं यहां आपके समक्ष मौजूद हूं और मैं टीबी फ्री हूं तो वो इस वजह से क्योंकि मैंने सही समय पर अपना इलाज करा लिया था.'

उन्होंने उस दौर को भी याद किया जब 1982 में फिल्म कुली के दौरान लगी चोट के चलते 200 लोग उन्हें खून देने पहुंचे थे और फिर उन्होंने साल 2006 में ये शेयर किया था कि उन्हें हेपाटाइटिस बी की समस्या से जूझना पड़ा है. गौरतलब है कि केबीसी के 11वें सीजन के पहले करोड़पति सनोज राज रहे. सनोज बिहार से ताल्लुक रखते हैं. 15 सही सवालों का जवाब देकर उन्होंने एक करोड़ रुपये जीते. इस तरह से केबीसी के सेट पर बिहार का टैलेंट को एक बार फिर चमका है. बता दें कि केबीसी में बिहार के ही सुशील कुमार 5 करोड़ रुपये जीत चुके हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें