scorecardresearch
 

Shah Rukh Khan के लिए कितनी मायने रखती है ZERO की सक्सेस?

बॉलीवुड के बादशाह शाहरुख खान, अनुष्का शर्मा और कटरीना कैफ की फिल्म जीरो क्रिसमस वीक पर 21 द‍िसंबर को र‍िलीज होने जा रही है. ये फिल्म फैंस के साथ शाहरुख खान के लिए भी बहुत मायने रखती है. इसका निर्देशन आनंद एल राय ने किया है. 

ZERO: शाहरुख खान ZERO: शाहरुख खान

बॉलीवुड के किंग शाहरुख खान की फिल्म जीरो 21 द‍िसंबर को र‍िलीज होने जा रही है. ये फिल्म फैंस के साथ शाहरुख के लिए भी बहुत मायने रखती है. 25 साल से ज्यादा समय से फिल्म इंडस्ट्री में छाए रोमांस किंग के लिए, अपनी बादशाहत बनाए रखने के ल‍िए जीरो की सक्सेस अहम है.

वैसे इंडस्ट्री में कायम बने रहने की जद्दोजहद को खुद शाहरुख ने जीरो के प्रमोशन के दौरान जाहिर किया था. उन्होंने कहा था, "अगर जीरो नह‍ीं चलती है तो मुझे 6 महीने तक इंडस्ट्री में काम नहीं मिलेगा."

नहीं चल पा रहा शाहरुख का जादू

शाहरुख खान की प‍िछली फिल्मों पर नजर डालें तो इम्त‍ियाज अली के निर्देशन में बनी 'हैरी मेट सेजल' को दर्शकों ने बुरी तरह से नकार द‍िया था. इसके पहले आई गौरी श‍िंदे के न‍िर्देशन में बनी 'ड‍ियर ज‍िंदगी' भी बॉक्स ऑफ‍िस पर खास कमाल नहीं द‍िखा सकी. हालांकि फिल्म की सराहना हुई थी. दोनों ही फिल्मों का जादू फीका रहा. शाहरुख की झोली में 'रईस' के बाद कोई बड़ी ह‍िट फिल्म नहीं आई.

रोमांस किंग का रुतबा बनाए रखने की चुनौती

शाहरुख को बॉलीवुड का रोमांस किंग कहा जाता है. लेकिन पिछले कुछ सालों से उन्हें ये रुतबा बनाए रखने में मुश्किल हो रही है. किंग खान की रोमांट‍िक ड्रामा 'हैरी मेट सेजल' शाहरुख के होने के बाद भी फ्लॉप हुई. अब उनका ये रुतबा जीरो से बरकरार रहने की उम्मीद है. जीरो की अनाउंसमेंट के दौरान खुद आनंद एल रॉय ने एक इंटरव्यू में कहा था, "शाहरुख को पर्दे पर फैंस कैसे देखना चाहते हैं ये हम जीरो में द‍िखाएंगे."

बॉक्स ऑफिस पर गिरा क्रेज

बॉलीवुड में बॉक्स ऑफ‍िस पर तीनों खान की तुलना करें तो लंबे वक्त से आमिर खान और सलमान खान छाए हुए हैं. वैसे सलमान-आमिर की प‍िछली फिल्में रेस 3 और ठग्स ऑफ हिंदुस्तान फ्लॉप रही थी. हालांकि दोनों की साख टिकट खिड़की पर अभी भी बनी हुई है. तमाम आलोचनाओं के बावजूद दोनों सितारों की फ़िल्में 100 करोड़ से ज्यादा कमाने में कामयाब हुई थीं. शाहरुख के खाते में लंबे वक्त से 100 करोड़ की कोई फिल्म नहीं आई है. टिकट खिड़की पर जीरो के लिए फैंस क्या र‍िस्पांस देते हैं ये देखने वाली बात है.

पहली बार बौने बने शाहरुख

जीरो की कहानी एक बौने शख्स की है. शाहरुख खान ने अपने किरदार के साथ एक तरह का र‍िस्क भी ल‍िया है. बौने शख्स का लीड रोल में किरदार हिंदी स‍िनेमा में कम ही नजर आता है. वैसे इन द‍िनों फैंस र‍ियल और एक्पैर‍िमेंट कहान‍ियों को पसंद कर रहे हैं. ऐसे में जीरो की कहानी लोगों को स‍िनेमा के पर्दे तक लाने में कामयाब हो सकती है.

बतौर हीरो ये फिल्म शाहरुख के करियर को बॉलीवुड में और लंबा करने वाली साबित हो सकती है. लेकिन यह बॉक्स ऑफिस पर दर्शकों के रेस्पोंस से साबित होगा. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें