scorecardresearch
 

'वेलकम टू न्यूयॉर्क में अरि‍जीत ने गाया ही नहीं तो हटाने की बात कहां से आई'

वेलकम टू न्यूयॉर्क में अरिजीत सिं‍ह के हटाए जाने की खबर को प्रोड्यूसर ने बताया गलत, कहा अरिजीत ने जब गाना गाया ही नहीं तो हटाए कहां से.

अरि‍जीत सिंह और राहत फतह अली खान अरि‍जीत सिंह और राहत फतह अली खान

अप‍कमिंग फिल्म वेलकम टू न्यूयॉर्क में अरिजीत सिंह के गाने को ह‍टाने से जुड़े विवाद पर चर्चाएं शायद ख़त्म हो जाए. अब फिल्म के निर्माता वाशु भगनानी ने एक इंटरव्यू में साफ कहा कि इस फिल्म के लिए अरिजीत सिंह ने जब कोई गाना गाया ही नहीं तो उसे हटाने की बात कहां से आ सकती है?

ऐसे शुरू हुई थी सलमान-अरिजीत की अनबन, अब तक सुलह नहीं!

इंडियन एक्सप्रेस से वाशु ने कहा, मुझे उम्मीद थी कि कम से कम लोग मुझ से इस बारे में कंमर्फेशन के लिए पूछते. राहत फ़तेह अली खान की आवाज में रिलीज हुए फिल्म के गाने 'इश्तेहार' के कंपोजर शमीर टंडन का इस मामले पर कहना है-'मैंने अरिजीत के गाने को हटाए जाने की खबरों को जब टीवी पर देखा तो मैं भी कन्फ्यूज हो गया कि आखि‍र ये क्या हो रहा है? अरिजीत ने वेलकम टू न्यूयॉर्क के लिए कोई गाना नहीं गाया है और ना ही कोई स्क्रैच रिकॉर्ड‍िंग की गई.

शमीर टंडन ने कहा, इस गाने के लिए उन्हें जिस तरह की आवाज चाहिए थी राहत उसमें फिट बैठ रहे थे. इसलिए हमने उनसे इस गाने को गाने के लिए कहा. शमीर ने कहा, जब अरिजीत ने गाया ही नहीं तो कोई उनकी आवाज को कैसे हटा सकता है.' ये वाकई अफवाहों का एक बुरा मामला कहा जा सकता है. इस तरह की चर्चाओं ने एक तरह से पूरे इकोसिस्टम को ही खराब कर दिया है. बॉडर्र पार बैठे राहत भी इस सब को देखकर क्या सोच रहे होंगे. और अरिजीत भी कोई स्क्रैच सिंगर नहीं हैं.'

वाशु ने कहा, देश में पाकिस्तानी कलाकारों को लेकर चल रही गहमागहमी के चलते बॉलीवुड ऑनलाइन और वेब फाइल के जरिए ही पाक कलाकारों के गाने रिकॉर्ड कर रहा है. जब से पाक कलाकारों ने देश में आना बंद किया है तब से वेबफाइल्स एक्सचेंज के जरिए ही काम हो रहा है.

बाबुल सुप्रि‍यो ने भी की थी इस मामले पर टिप्पणी

बाबुल सुप्रियो ने अरिजीत के गाने को हटाकर राहत गवाने पर विवादित बयान दिया था. उन्होंने कहा था, ‘मैं समझ नहीं पा रहा हूं कि जब भारत-पाक के बीच तनाव बढ़ा हुआ है, तो हम सीमा पार टैलेंट क्यों ढूंढ रहे हैं. ऐसा नहीं होना चाहिए कि एफएम पर पाकिस्तानी गायकों के गाने चलें और समाचार चैनलों पर पाकिस्तानी हमले में शहीद जवानों के.’ उन्होंने कहा था, ‘मुझे आतिफ असलम या राहत से कोई परेशानी नहीं, उनकी नागरिकता से परेशानी है. बॉलीवुड दुनियाभर में भारत का प्रतिनिधित्व करता है. पाक कलाकारों को बैन कर दुनियाभर में पाकिस्तान द्वारा फैलाए जा रहे आतंकवाद का विरोध करना चाहिए. बॉलीवुड से शोहरत पाने वाले किसी भी पाकिस्तानी कलाकार ने भारत में हमलों को लेकर अपने देश की निंदा नहीं की है.’

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें