scorecardresearch
 

विनोद खन्ना के लिए बेटे जैसे थे संजय दत्त, अस्पताल में भी दिखा था प्रेम

अभिनेता विनोद खन्ना के निधन पर संजय दत्त ने भी शोक व्यक्त किया है. खास बात ये है कि विनोद खन्ना को संजय दत्त अपने पिता की तरह मानते थे. खुद विनोद खन्ना भी संजय दत्त को बेटा कहकर बुलाते थे.

संजय दत्त और विनोद खन्ना संजय दत्त और विनोद खन्ना

अभिनेता विनोद खन्ना के निधन पर संजय दत्त ने भी शोक व्यक्त किया है. खास बात ये है कि विनोद खन्ना को संजय दत्त अपने पिता की तरह मानते थे. खुद विनोद खन्ना भी संजय दत्त को बेटा कहकर बुलाते थे. एक हफ्ते पहले ही संजय उनसे मिलने अस्पताल गए थे. जिस समय दूसरे सेलेब्रिटी विनोद खन्ना से नहीं मिल पा रहे थे उस समय खुद विनोद खन्ना के कहने पर संजय दत्त को उनसे मिलने दिया गया.

संजय दत्त और विनोद खन्ना की इस मुलाकात की बातें फिल्म 'भूमि' फिल्म के प्रोड्यूसर संदीप सिंह ने बताईं. उन्होंने बताया, संजू सर और मैं विनोद सर से मिलने के लिए बांद्रा से साथ निकले. हम दक्षिण मुंबई में शूटिंग कर रहे थे. शूटिंग शुरू होने से पहले संजू सर ने मुझे कहा, मैं पहले जाकर अपने पिता (विनोद खन्ना) से मिलना चाहता हूं. मैंने उनसे बहुत सी चीजें सीखीं हैं.
ये थी विनोद खन्ना की आखिरी ख्वाहिश, जो रह गई अधूरी

संदीप ने बताया, जब हम अस्पताल पहुंचे तो अक्षय खन्ना हमें लेने के लिए नीचे आए. जब हम उनके कमरे में दाखिल हुए तो ऐसा लगा मानो यह उनका घर हो. विनोद सर का पूरा परिवार वहां मौजूद था. उनकी पत्नी कविता जी, बेटा साक्षी, उनके भाई प्रमोद जी, बहन श्रद्धा सभी वहां पर थे. अक्षय ने पहले हमे गले लगाया और इंतजार करने को कहा. इस बीच वह अस्पताल से विनोद जी से मिलने की इजाजत ले रहे थे.

विनोद खन्ना के आखिरी दिनों की कहानी, क्यों मिलने नहीं जा पाते थे बॉलीवुड के दोस्त
संदीप ने बताया कि विनोद खन्ना को जब बताया कि संजय दत्त आए हैं तो विनोद जी ने ने कहा, मैं अपने बेटे से मिलना चाहता हूं.

विनोद खन्ना ने गुरुवार सुबह 11 बजकर 20 मिनट पर आखिरी सांस ली. जब संजय दत्त को उनकी मौत के बारे में पता लगा तो उन्होंने कहा, 'यह बहुत ही दुखद खबर है. विनोद खन्ना जी को मैं बचपन से देखता आ रहा हूं. उनकी फिल्में देख कर बड़ा हुआ हूं. मैं बचपन में भी उनके अंदाज से और उनके परसोना से हमेशा आकर्षित रहा हूं. वह हमेशा मेरे लिए एक आदर्श रहे हैं. यह हमारी पूरी फिल्म इंडस्ट्री के लिए एक बड़ी क्षति है.'

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×