scorecardresearch
 

पाकिस्तान से आलोचना के बाद प्रियंका चोपड़ा को मिला कंगना का साथ, कही ये बात

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की कैबिनेट में मानवाधिकार मंत्री डॉक्टर शिरीन एम मजारी ने भी यूनिसेफ के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर को खत लिखकर प्रियंका को यूएन की गुडविल एम्बैसेडर फॉर पीस के पद से हटाने की मांग की थी. अब इस मामले में प्रियंका को कंगना रनौत का साथ मिला है.

प्रियंका चोपड़ा और कंगना रनौत प्रियंका चोपड़ा और कंगना रनौत

प्रियंका चोपड़ा पिछले कुछ समय से विवादों में हैं. कुछ समय पहले पाकिस्तान की एक महिला ने प्रियंका की एक पोस्ट को लेकर उनसे यूनिसेफ की गुडविल एम्बैसेडर होने को लेकर सवाल किया था. दरअसल प्रियंका चोपड़ा ने भारतीय सेना द्वारा पाकिस्तान पर पुलवामा हमले के बाद किए गए कार्यवाही का समर्थन किया था. इसके बाद उन पर एक पाकिस्तानी महिला ने ढोंगी होने का आरोप लगा दिया था.

इसके बाद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की कैबिनेट में मानवाधिकार मंत्री डॉक्टर शिरीन एम मजारी ने भी यूनिसेफ के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर को खत लिखकर प्रियंका को यूएन की गुडविल एम्बैसेडर फॉर पीस के पद से हटाने की मांग की थी. अब इस मामले में प्रियंका को कंगना रनौत का साथ मिला है.

कंगना रनौत ने ईटाइम्स को दिए एक इंटरव्यू में कहा, 'यह बिल्कुल आसान नहीं होता है. जब आप अपनी ड्यूटी और इमोशन्स के बीच फंस कर रह जाते हैं. यूनिसेफ के गुडविल एम्बैसेडर के तौर पर भले ही आप अपने आपको एक देश तक सीमित न रख सको लेकिन हम कितनी बार अपनी दिनचर्या में दिमाग की बजाय दिल से काम लेते है?'

गौरतलब है कि पाकिस्तानी महिला की शिकायत के जवाब में प्रियंका ने भी जवाब दिया था. उन्होंने कहा था कि 'मेरे पाकिस्‍तान के कई सारे दोस्‍त हैं और मैं भारत से हूं. युद्ध ऐसी चीज नहीं है जिसके मैं पक्ष में हूं लेकिन मैं देशभक्‍त हूं. मैं माफी मांगती हूं, अगर मैंने उन लोगों की भावनाएं आहत की हों जो मुझे पसंद करते हैं, लेकिन मुझे लगता है कि हम सभी में एक मिडिल ग्राउंड होता है जिस पर हमें चलना होता है, जैसा कि शायद आप भी कर रही हैं. जिस तरह से आप अभी मेरे पास आई हैं, चिल्‍लाइए नहीं. हम सभी यहां प्‍यार के लिए हैं.'

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें