scorecardresearch
 

'पद्मावती रिलीज हुई तो शूर्पणखा की तरह काट देंगे दीपिका की नाक'

फिल्म 'पद्मावती' को लेकर रोज नए-नए विवाद और बयान सामने आते हैं. देश भर में लोग फिल्म की रिलीज का विरोध कर रहे हैं. गुरुवार को राजपूत करणी सेना के महिपाल सिंह मकराना ने दीपिका पादुकोण की नाक काटने की धमकी दे दी.

X
पद्मावती में दीपिका पादुकोण पद्मावती में दीपिका पादुकोण

फिल्म 'पद्मावती' को लेकर रोज नए-नए विवाद और ओछे बयान सामने आ रहे हैं. कुछ जातीय संगठन देशभर में फिल्म की रिलीज का विरोध कर रहे हैं. गुरुवार को राजपूत करणी सेना के महिपाल सिंह मकराना ने दीपिका पादुकोण की नाक काटने की धमकी दी. एक वीडियो जारी कर कहा- 'राजपूत महिलाओं पर कभी हाथ नहीं उठाते, लेकिन जरूरत पड़ी तो हम दीपिका के साथ वही करेंगे जो लक्ष्मण ने शूर्पणखा के साथ किया था.'

इस बीच यूपी में राजपूत करणी सेना के लोकेंद्र सिंह कलवी ने कहा, 'यदि फिल्म 1 दिसंबर को रिलीज हुई तो लाखों लोग इसके विरोध में जमा होंगे. हमारे पूर्वजों ने खून से इतिहास लिखा है. हम किसी को इस पर कालिख नहीं पोतने देंगे. हम 1 दिसंबर को भारत बंद का ऐलान करेंगे.' उन्होंने यह भी कहा कि फिल्म की रिलीज रोकने के लिए हम सिनेमाघरों के मालिकों और हर डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट को खून से चिट्ठी लिखेंगे.

भंसाली के सिर पर रखा 5 करोड़ का इनाम

'पद्मावती' के खिलाफ इस विवाद में जयपुर के सर्व ब्राह्म्ण महासभा भी कूद पड़ा है. संगठन ने फिल्म बैन करने के लिए सेंसर बोर्ड को खून से साइन किया हुआ लेटर भेज रहा है.

इस बीच यूपी के मेरठ में एक राजपूत नेता ने फिल्म के डायरेक्टर संजय लीला भंसाली के खिलाफ अजीबोगरीब फरमान जारी किया. इसमें भंसाली का सिर काटने वाले को पांच करोड़ देने की बात है.

क्यों है विवाद ?

कई बातों को लेकर विवाद है. आरोपों के मुताबिक़ फिल्म में अलाउद्दीन खिलजी को महिमामंडित किया गया है. खिलजी और रानी पद्मिनी के बीच ड्रीम सीक्वेंस फिल्माया गया है. रानी पद्मावती को उस तरह दिखाया गया जैसा राजपूत या राजपरिवारों में नहीं होता. घूमर डांस में भी राजपूत समाज की गलत प्रस्तुति हुई. कहा जा रहा कि पुरुषों के सामने रानियां डांस नहीं करती.

 600 दिन में बने पद्मावती के गहने, 200 कारीगरों ने किया था तैयार

ये फिल्म सात सौ साल पहले की एक कहानी पर बन रही है. हिंदी कवि मालिक मोहम्मद जायसी ने पद्मावत लिखी थी. इसमें रानी पद्मिनी और खिलजी का जिक्र है. कुछ लोग गल्प मानते हैं तो वहीं कई लोग इसे ऐतिहासिक कहानी बताते हैं. कहा जाता है कि खिलजी रानी पद्मिनी को लेकर आशक्त था. उसने मेवाड़ पर हमला कर दिया था. रानी पद्मिनी ने 16 हजार राजपूत महिलाओं के साथ जौहर कर लिया था.

सफाई दे चुके हैं भंसाली :

बता दें कि पद्मावती में अलाउद्दीन खिलजी और रानी पद्मिनी के बीच ड्रीम सीक्वेंस को लेकर विवाद था जिस पर मेकर्स की ओर से सफाई आ चुकी है. भंसाली ने हाल ही में सोशल मीडिया में एक बार फिर कहा कि फिल्म में इस तरह का कोई सीक्वेंस नहीं है. ये फिल्म 1 दिसंबर को रिलीज होनी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें