scorecardresearch
 

Padmavati: सिर काटने के बयान पर एक्टर ने कहा-'भारतीय होना दुख की बात'

पद्मावती फिल्म के विवाद पर फिल्म मेकर्स और एक्टर्स को मिल रही धमकियों के चलते आह‍त इस बॉलीवुड एक्टर ने कहा-'भारतीय होना दुख की बात है.'

X
रोहित रॉय रोहित रॉय

संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावती के विरोध के चलते फिल्ममेकर्स और एक्टर्स के लिए 'सिर काटने' काटने जैसी बर्बर बयानों से एक्टर रोहित रॉय बेहद परेशान हैं. उनका कहना है कि वह भारतीय होने और भारत में रहने को लेकर बेहद दुखी और निराश हैं.

पद्मावती पर बवाल से नाराज हैं दीपिका पादुकोण? PM मोदी के इवेंट में जाने से मना किया

रोहित ने ये बात ट्वीट में कही है, उन्होंने लिखा, ''पहली बार मैं इस बात को लेकर दुखी, निराश और गुस्से में हूं कि मैं एक भारतीय हूं और भारत में रह रहा हूं..मैंने कभी नहीं सोचा था कि मैं ऐसा कभी कहूंगा. वास्तव में यह बेहद दुखद है. जय हिंद.' रोहि‍त रॉय ने संजय लीला भंसाली की फिल्म 'पद्मावती' को लेकर चल रहे विवाद पर कई ट्वीट किए हैं.

Padmavati: 'मैं चाहता हूं दीपिका का सिर सलामत रहे'-कमल हासन

बता दें कि राजपूत संगठन करणी सेना और कुछ अन्य हिंदू संगठन भंसाली पर ऐतिहासिक तथ्यों से छेड़छाड़ करने का आरोप लगाते हुए फिल्म की रिलीज का विरोध कर रहे हैं. भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के एक नेता ने संजय लीला भंसाली और दीपिका पादुकोण का सिर काटने वाले को 10 करोड़ रुपये ईनाम में देने की बात कही है.

पद्मावती के एक चरित्र में खो गया लाखों का बलिदान, कई बड़े मुद्दे

रोहित ने कहा, 'आज लोग एक फिल्म के लिए कलाकारों, निर्देशकों का सिर काटने पर ईनाम की पेशकश कर रहे हैं, जिसका उन्होंने एक सिंगल फ्रेम भी नहीं देखा है. यहां तक कि सरकार इस तरह की भड़काऊ बयानबाजी को रोकने के लिए कुछ भी नहीं कर रही. रचनात्मक स्वतंत्रता को तो भूल ही जाइए. क्या यह 'असहिष्णुता' सभी भारतीयों के लिए डरावनी नहीं है? बेहद दुखद.'

फिल्म काबिल में नेगेटिव किरदार अदा करने वाले रोहित रॉय ने एक सवाल खड़ा करते हुए कहा, 'मां' की 'छवि' की रक्षा करने के लिए महज उसका किरदार निभाने वाली देश की एक बेटी का सिर काटने की इच्छा हैरान करने वाली है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें