scorecardresearch
 

आधी रात को लौटीं मानुषी, एयरपोर्ट पर फैन्स और CISF के बीच हुई हाथापाई

कॉन्टेस्ट में उनसे पूछा गया था कि किस प्रोफेशन को सबसे ज्यादा सैलरी मिलनी चाहिए और क्यों. इसका जवाब देते हुए मानुषी ने कहा कि एक मां को सबसे ज्यादा इज्जत मिलनी चाहिए और जहां तक सैलरी की बात है, तो इसका मतलब रुपयों से नहीं बल्कि सम्मान और प्यार से है.

मुंबई एयरपोर्ट पर मिस वर्ल्ड मानुषी छिल्लर (Picture: Yogen Shah) मुंबई एयरपोर्ट पर मिस वर्ल्ड मानुषी छिल्लर (Picture: Yogen Shah)

चीन के सान्या में मिस वर्ल्ड का खिताब जीतकर मानुषी छिल्लर बीती रात करीब 1 बजे भारत लौट आई. उन्हें देखने के लिए एयरपोर्ट पर फैंस और मीडिया की भारी भीड़ लगी थी. मानुषी के पहुंचने के घंटों पहले से ही उनके फैन्स एयरपोर्ट पर पोस्टर बैनर के साथ उनके वेलकम के लिए खड़े थे. मानुषी के लिए वहां सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम नहीं थे.

लोगों और मीडियाकर्मियों से सीआईएसएफ के जवानों को हाथापाई करनी पड़ी. सुरक्षा के लिए वहां तकरीबन 12 सीआईएसएफ के जवान थे. भारी भीड़ को हटाने के लिए सीआईएसएफ के जवानों को लोगों के साथ हाथापाई करानी पड़ी.

दुनिया जीतकर लौटीं MISS WORLD मानुषी, देखें PHOTOS

मानुषी 28 नवंबर से हैदराबाद में शुरू होने वाली Global Entrepreneurship Summit (GES) का हिस्सा होंगी. इस इवेंट को भारत और यूएस को-होस्ट कर रहा है. यहां वो The Female Influencer: Advancing Women's Opportunities in the Media Industry सेशन में सोनम कपूर के साथ पैनलिस्ट होंगी.

गौरतलब है कि मानुषी छिल्लर भारत की छठी महिला हैं जिन्होंने मिस वर्ल्ड का खिताब जीता है. मानुषी के चेहरे पर दुनिया जीत कर वतन लौटने की खुशी साफ जाहिर हो रही थी. मानुषी ने दुनिया की 117 सुदंरियों को हराकर मिस वर्ल्ड का खिताब जीतकर हिंदुस्तान का मान बढ़ाया है.

मिस वर्ल्ड मानुषी छिल्लर बॉलीवुड के लिए तैयार, ये VIDEO है सबूत

हरियाणा के मध्‍यमवर्गीय परिवार से ताल्‍लुक रखने वाली मानुषी सोनीपत के भगत फूल सिंह गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज फॉर वूमेन की छात्रा रह चुकी हैं.  

कॉन्टेस्ट में उनसे पूछा गया था कि किस प्रोफेशन को सबसे ज्यादा सैलरी मिलनी चाहिए और क्यों. इसका जवाब देते हुए मानुषी ने कहा कि एक मां को सबसे ज्यादा इज्जत मिलनी चाहिए और जहां तक सैलरी की बात है, तो इसका मतलब रुपयों से नहीं बल्कि सम्मान और प्यार से है.

मिस वर्ल्‍ड का खि‍ताब जीतने के बाद मानुषी ने कहा, 'मैं भारत को ये गौरव दिलाने के लिए उत्‍साहित थी. मेरे माता-पिता का सपोर्ट हमेशा मेरे साथ रहा. उनके इस समारोह के दौरान मौजूद रहने से मुझे ताकत मिली. प्रतियोगिता के दौरान मेरा अंतिम जवाब भी उनके सामने रहने के कारण ही जहन में आ सका.

मेडिकल की पढ़ाई करते-करते मानुषी का सेलेक्शन मिस इंडिया के लिए हुआ. अपने खान-पान से लेकर अपने लुक्स बॉडी लैंग्वेज और अपनी डॉक्टरी की पढ़ाई और क्लासेस के बीच में मैनेज करना मानुषी के लिए आसान नहीं था. मानुषी की लाइफ काफी अनुशासित रही है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें