scorecardresearch
 

शाहरुख खान के सी-फेसिंग बंगले पर IT की कार्रवाई, खेती जमीन हड़पने का आरोप

मुंबई के अलीबाग में खेती जमीन पर अवैध बंगला बनाने और जालसाजी के आरोप में इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने कार्रवाई की है. इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की ओर से शाहरुख से जवाब मांगा है.

शाहरुख खान शाहरुख खान

मुंबई के अलीबाग में खेती जमीन पर अवैध बंगला बनाने और जालसाजी के आरोप में इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने कार्रवाई की है. इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की ओर से शाहरुख से जवाब मांगा है.

शाहरुख को IT डि‍पार्टमेंट की ओर से अटैचमेंट नोटिस जारी किया गया है. ये नोटिस बेनामी प्रोपर्टी ट्राजेंक्शन एक्ट (PBPT) का उल्लंघन करने को लेकर दिसंबर में जारी किया गया था.  अब इनकम टैक्स अधि‍कारियों ने इंडिया टुडे से इस बात की पुष्टि की है. आईटी डिपार्टमेंट के मुताबिक़ इंडिया टुडे की रिपोर्ट को आधार बनाकर डिपार्टमेंट ने मामले की जांच की.

आईटी सूत्रों के मुताबिक़ शाहरुख की सास को मामले में एक नोटिस भी भेजा गया था, जिसका जवाब आ गया, लेकिन इसी मामले में शाहरुख ने नोटिस का जवाब नहीं दिया. जिसके बाद आईटी डिपार्टमेंट ने सेक्शन  24 बेनामी प्रॉपर्टी एक्ट के त‍हत प्रोवीजन अटैचमेंट की कार्रवाई की. दिल्ली मुख्यालय की ओर से भेजा गया नोटिस अटैचमेंट प्रोवीजन 90 दिनों के लिए है. इस अवधि‍ में जवाब नहीं मिलने पर डिपार्टमेंट की ओर से आगे की कार्रवाई की जाती है.

कलेक्टर बता चुके हैं गैरकानूनी ?

इससे पहले अलीबाग बंगले के निर्माण में रायगढ़ कलेक्टर ने भी इसे गैर कानूनी बताया था. तब इंडिया टुडे की खबर पर एक्शन लते हुए कलेक्टर ने शाहरुख के खि‍लाफ कानूनी कदम उठाया था. जिला प्रशासन ने स्थानीय प्रशासन और पुलिस ने एक मीटिंग के बाद बंगले को गैर कानूनी निर्माण बताते हुए वहां से अतिक्रमण हटाया था, लेकिन शाहरुख स्थानीय पुलिस से स्टे ऑर्डर लाए थे जिस वजह से अतिक्रमण हटाने का काम रोक दिया गया था.

सी फेसिंग विला के लिए कैसे किसान बने थे शाहरुख ?

आज तक को जो जानकारी मिली थी उसके मुताबिक, 2004 में डेजा वू फार्म्स प्राइवेट लिमिटेड नाम की कंपनी के जरिए ये जमीन खरीदी गई थी. कहा गया था कि डेजा वू कंपनी खेती और खेती के विकास का काम इस जमीन पर करेगी. डेजा वू फार्म्स नाम की कंपनी ने साल 2004 से अब तक खेती बाड़ी के मद में एक रुपये का काम नहीं किया है. कंपनी के नाम पर शाहरुख खान ने 2006-07 में 8 करोड़ 45 लाख रुपये का लोन लिया था. जो अब तक चुकाया नहीं गया है.

कंपनी में शाहरुख के ससुर-सास

सरकारी दस्तावेज में इस कंपनी के डायरेक्टर शाहरुख के ससुर और गौरी खान के पिता रमेश छिब्बा हैं. इनके अलावा गौरी खान की मां सविता छिब्बा और उनके भाई की पत्नी नमिता छिब्बा का नाम भी इस कंपनी के मालिकों में शामिल है. बता दें शाहरुख के अलीबाग में विला और मन्न्त के अलावा दुबई, लंदन और दि‍ल्ली में भी शानदार बंगले हैं, जिनकी कीमत करोड़ों में बताई गई है. .

कैसे हुआ था खुलासा

खेती जमीन पर फर्जीवाड़े के आरोप महाराष्ट्र के पर्यावरणविद सुरेंद्र धवले ने लगाए थे. उन्होंने ठाणे के खार पुलिस स्टेशन में लिखि‍त रूप से इसकी शि‍कायत भी की थी. इसके मुताबिक शाहरुख और उनकी पत्नी ने जमीन के लिए फर्जीवाड़ा किया. इस फर्जीवाड़े का खुलासा शाहरुख के जन्मदिन के कुछ ही दिन बाद हुआ था. खुलासे से पहले ही शाहरुख ने अलीबाग वाले बंगले में शानदार जन्मदिन पार्टी ऑर्गनाइज की थी. याच से आने के दौरान उनका एक एमएलसी से विवाद हो गया था, जिसके कुछ दिन बाद फर्जीवाड़े की बात सामने आई थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें