scorecardresearch
 

डिप्रेशन का मैंने भी सामना किया: रितिक रोशन

रितिक रोशन ने अपनी बीमारी के बारे में बताया है. रि‍तिक का कहना है कि वो डिप्रेशन से ग्रस्त रहे हैं.

X
रितिक रोशन
रितिक रोशन

बॉलिवुड स्टार रितिक रोशन का कहना है कि उन्होंने जीवन में बहुत सारे उतार-चढ़ावों का सामना किया है. रितिक ने खुद मानसिक अवसाद (डिप्रेशन) का सामना करने की बात भी मानी है. लेकिन रितिक ने साथ ही कहा है कि डिप्रेशन ऐसी चीज नहीं जिसे किसी खराब बात की तरह अपने साथ जोड़ कर देखा जाए.

रितिक ने कहा कि मानसिक स्वास्थ्य से जुड़े मुद्दों पर सामान्य तौर पर ही बात की जानी चाहिए. इन्हें ऐसा नहीं माना जाना चाहिए कि ये लाइलाज हैं. रितिक रोशन एम पावर के 'एवरीडेज हीरोज' अभियान के लॉन्च पर बोल रहे थे.

रितिक ने कहा, 'मैंने कई उतार चढ़ाव देखे हैं. मैंने डिप्रेशन को अनुभव किया है, मैंने संशय को अनुभव किया है, जैसे कि हम सभी करते हैं. ये बहुत सामान्य बात है. हम जब भी इस पर बोलें, इसे साधारण तरीके से ही लें.'

रितिक ने कहा कि मानसिक बीमारी को भी स्वीकार वैसे ही लड़ना चाहिए जैसे कि हम अन्य बीमारियों पर करते हैं. रितिक के मुताबिक जो उतार-चढ़ाव उन्होंने देखे, उनसे एक व्यक्ति के तौर पर उनके विकास में मदद मिली.

रितिक ने कहा , 'मैंने निजी जिंदगी में कई मुद्दों का सामना किया. ऐसा हम सभी के साथ होता है. ऊपर जाना जरूरी है तो नीचे आना भी उतना ही अहम है. ये दोनों ही आपकी शख्सियत को बनाने के लिए जरूरी हैं. जब आप नीचे जाते हैं तो आपके विचारों की स्पष्टता जरूरी होती है. आपका मस्तिष्क आप पर हावी हो जाता है. अनचाहे विचार आप पर छाने लगते हैं. उस वक्त आपको दूसरे या तीसरे व्यक्ति की जरूरत होती है जो आपको बता सके कि आपके साथ क्या हो रहा है.'

रितिक ने 2000 में बॉलीवुड में 'कहो ना प्यार है' से आगाज किया. रितिक ने बताया कि उन्होंने अपने कई दोस्तों को को देखा जो चुपचाप डिप्रेशन और अन्य मानसिक मुद्दों से जूझते हैं. रितिक के मुताबिक इसी ने उन्हें मुद्दे की गहराई तक जाने के लिए प्रेरित किया.

रितिक ने कहा, ये वो चीज है जो बरसों से उनके दिमाग में थी. रितिक के मुताबिक जब हम पेट या किडनी की समस्या से ग्रस्त होते हैं तो हम इसे सामान्य मानते हुए इसका इलाज कराते हैं. फिर दिमाग की कोई समस्या हो, जो भी एक अंग ही है, क्यों इतना डर जाते हैं. ऐसा समझते हैं कि ये हमारी गलती है और इसे हमें दूसरे लोगों से छुपाना चाहिए, जिंदगी में कभी ना कभी सभी को मानसिक मुद्दों का सामना करना पड़ता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें