scorecardresearch
 

पहले लड़कियों से बहुत शर्माता था: गुलशन देवैया

गुलशन देवैया फिल्म इंडस्ट्री का एक ऐसा नाम है जिसे आप नाम से कम और काम से ज्यादा पहचानते हैं. फिल्म दम मारो दम का रिक्की हो, शैतान फिल्म का करण या रामलीला का भवानी. हर किरदार में जनता ने इनके काम को सराहा है. गुलशन की नई फिल्म 'हंटर' जल्द ही रूपहले पर्दे पर दस्तक देने वाली है. इसी सिलसिले में आज तक ने की गुलशन से खास बातचीत.

X
गुलशन देवैया गुलशन देवैया

गुलशन देवैया फिल्म इंडस्ट्री का एक ऐसा नाम है जिसे आप नाम से कम और काम से ज्यादा पहचानते हैं. फिल्म दम मारो दम का रिक्की हो, शैतान फिल्म का करण या रामलीला का भवानी. हर किरदार में जनता ने इनके काम को सराहा है. गुलशन की नई फिल्म 'हंटर' जल्द ही रूपहले पर्दे पर दस्तक देने वाली है. इसी सिलसिले में आज तक ने की गुलशन से खास बातचीत.

हंटर फिल्म का ट्रेलर देखकर लगता है कि आपके पास भी लड़कियों के आकर्षित करने के बहुत सारे नुस्खे हैं?
गुलशन: जी नहीं, ऐसा बस फिल्मों के किरदारों में होता है. निजी जिंदगी में मेरे पास ऐसा कोई नुस्खा नहीं है. मुझे नहीं पता कि लड़कियों से क्या कहना चाहिए या क्या बात करनी चाहिए.

लेकिन इस फिल्म में तो आप बस लड़कियों के इर्दगिर्द ही नजर आते हैं. ये कैसे मुमकिन हुआ?
गुलशन: इस फिल्म में मेरे किरदार का नाम मंदार है जो वासना का पूजारी है. वो सेक्स के प्रति रुझान रखता है लेकिन उसे ये नहीं पता कि ऐसा करने से सारी लड़कियां उसकी तरफ नहीं आएंगी. मंदार बचपन से ही जान जाता है कि कौन लड़की उसके पास आ सकती है और कौन नहीं. इसलिए इस फिल्म में उसका नाम 'वासु' भी है.

स्कूल कॉलेज में लड़कियों के साथ कैसे पेश आते थे?
गुलशन: कॉलेज के दिनों में मुझे बहुत सारी लड़कियां पसंद करती थीं. मैं बहुत शर्मीला था. 17 साल की उम्र में मैं जब नाटक में हिस्सा लेता था तो मुझे देखने के लिए कई लड़कियां कॉलेज के गेट पर खड़ी रहती थी. जब उतनी सारी लड़कियां मुझे एक साथ हैलो बोलती थीं तो शर्म के मारे मैं वहां से भाग जाता था.

फिल्म की शूटिंग के दौरान किन किन लड़कियों के नाम याद हैं?
गुलशन: सविता, सुनीता, लीला, बेला, ज्योतसना, तुलसी, पुनीता, लूसी, पारुल. फिल्म में सबसे ज्यादा सविता के पास गया.

फिल्म साइन करने से पहले आपकी पत्नी का क्या कहना था?
गुलशन: वो बहुत खुश थी. हालांकि उन्होंने स्क्रिप्ट नहीं पढ़ी थी. लेकिन जब एक कट तैयार हुआ तो मैं वो उन्हें दिखाया. उसे देखने के बाद मेरी पत्नी ने कहा कि मैं बहुत क्यूट लग रहा हूं. वो भी एक एक्ट्रेस हैं तो मेरे काम को बेहतर ढंग से समझ जाती हैं.

क्या इस इंडस्ट्री से आपको उतना मिला, जितने की चाह थी?
गुलशन: मुझे 2011 में 3-3 फिल्मों के लिए बेस्ट डेब्यू नॉमिनेट हुआ था. लेकिन अवॉर्ड नहीं मिला तो दुख हुआ. लेकिन अब यही कोशिश है कि आने वाली फिल्मों के लिए बेस्ट एक्टर का खिताब जीतूंगा.

कल्कि के साथ आप 'नानावटी मर्डर' पर आधारित फिल्म कर रहे हैं?
गुलशन: जी, कल्कि के साथ शैतान, गर्ल इन येलो बूट और कई प्ले किए हैं. नानावटी मर्डर 60 के दशक की एक रोचक कहानी है. इस फिल्म में मैं एक नौसेना अफसर का किरदार निभा रहा हूं. कल्कि मेरी पत्नी की भूमिका में नजर आएंगी.

क्या अब लीड एक्टिंग वाली फिल्में ही करेंगे?
गुलशन: लीड एक्टिंग में ज्यादा पैसे मिलते हैं तो अब कोशिश रहेगी कि ज्यादा से ज्यादा लीड एक्टिंग वाली फिल्में ही करूं. अभी हंटर, लव अफेयर और कैबरे में लीड रोल में नजर आऊंगा. हालांकि मुझे इस बात का कोई भी प्रेशर नहीं होता.

लड़कियों में क्या क्या पसंद है आपको?
गुलशन: खूबसूरती की कोई सीमा नहीं होती. वो कैसी भी हो सकती है. जैसे किसी की आंखें, किसी के गाल, किसी के बाल और किसी के होंठ.

आपके पसंदीदा एक्टर्स?
गुलशन: दिलीप कुमार और शर्मीला टैगोर

किसी बायोग्राफी में दिखेंगे आप?
गुलशन: मुझे बायोग्राफी करना बिल्कुल नहीं पसंद. मुझे बायोग्राफी सिस्टम अच्छा नहीं लगता.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें