scorecardresearch
 

अमिताभ-कंगना को मिला नेशनल अवॉर्ड, मनोज कुमार ने राष्ट्रपति को दिया ये तोहफा

नई दिल्ली में मंगलवार को 63वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों का वितरण किया गया. विज्ञान भवन में राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के हाथों फिल्मी हस्तियों और तकनीकी क्रू ने अपने पुरस्कार प्राप्त किए.

अमिताभ बच्चन को मिला नेशनल अवॉर्ड अमिताभ बच्चन को मिला नेशनल अवॉर्ड

63वें नेशनल फिल्म अवॉर्ड का आयोजन मंगलवार को दिल्ली में किया गया. इस मौके पर अमिताभ बच्चन को 'पीकू' के लिए बेस्ट एक्टर के अवॉर्ड से नवाजा गया तो वहीं बॉलीवुड की क्वीन कंगना रनोट को बेस्ट एक्ट्रेस से सम्मानित किया गया. वहीं मनोज कुमार को दादा साहेब फाल्के अवॉर्ड से सम्मानित किया गया.

राजधानी दिल्ली मे आयोजित 63 वें नेशनल अवॉर्ड फिल्म इंडस्ट्री की कई मेन स्ट्रीम फिल्मों के नाम रहा. 'पीकू' से लेकर 'तनु वेड्स मनु रिटर्न्स', 'बाजीराव मस्तानी', 'बजरंगी भाईजान', 'दम लगा के हइशा', 'बाहूबली' जैसी कमर्शियली कामयाब फिल्मों का अवॉर्ड समारोह में डंका बजा. राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी और वित्त मंत्री अरुण जेटली ने विजेताओं को सम्मानित किया.

सदी के महानायक बिग बी को फिल्म 'पीकू' में उनकी उम्दा कलाकारी के लिए बेहतरीन एक्टर के लिए अवॉर्ड मिला, अमिताभ बच्चन अपने पूरे परिवार यानि पत्नी जया बच्चन, अभिषेक बच्चन ऐश्वर्या राय बेटी श्वेता नंदा के साथ अवॉर्ड लेने पहुंचे वहीं कंगना रनोट को फिल्म 'तनु वेड्स मनु रिटर्न्स' के लिए बेस्ट एक्ट्रेस के अवॉर्ड से सम्मानित किया गया.

फिल्म 'बाजीराव मस्तानी' भी बेस्ट डायरेक्टर, बेस्ट स्पोटिंग एक्ट्रेस, बेस्ट कोरियोग्राफर, बेस्ट कॉस्टयूम, बेस्ट सिनेमटोग्राफी जैसे कई अवार्ड्स अपनी झोली में डालने में कामयाब रही. संजय लीला भंसाली को 'बाजीराव मस्तानी' के लिए बेस्ट डायरेक्टर अवॉर्ड मिला. वहीं बेस्ट हिंदी फिल्म रही आयुष्मान खुराना की फिल्म 'दम लगा के हईशा'.

फिल्म इंडस्ट्री के भारत कुमार यानि मनोज कुमार को दादा साहेब फाल्के पुरस्कार मिला. मनोज व्हील चेयर पर बैठ कर अवॉर्ड लेने पहुंचे. मनोज कुमार ने पुरस्कार ग्रहण करने के बाद अपनी जेब से मूर्ति निकाल कर राष्ट्रपति को भेंट की. भगवा रंग के पैटर्न वाली शर्ट और माथे पर भगवा पट्टी बांधे अभिनेता ने सम्मान के तौर पर परंपरागत भारतीय तरीके से राष्ट्रपति का चरण स्पर्श किया.

दादा साहेब फाल्के पुरस्कार भारतीय सिनेमा के विकास में उत्कृष्ट योगदान देनेवालों को भारत सरकार द्वारा दिया जाता है. इसके तहत एक स्वर्ण कमल, एक शॉल और 10 लाख रुपये प्रदान किए जाते हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें