scorecardresearch
 

'घड़ी-घड़ी ड्रामा करता है साला'- ये हैं अमिताभ की फिल्मों के 25 चुनिंदा संवाद

अमिताभ करीब पांच दशक से हिंदी फिल्मों में सक्रिय हैं. इस दौरान उन्होंने कई बेहतरीन फ़िल्में दी. उनका करियर तीन हिस्सों में नजर आता है.

अमिताभ बच्चन (फ़ाइल फोटो) अमिताभ बच्चन (फ़ाइल फोटो)

10 अक्टूबर 2017 को बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन 75 साल के हो चुके हैं. अमिताभ करीब पांच दशक से हिंदी फिल्मों में सक्रिय हैं. इस दौरान उन्होंने कई बेहतरीन फ़िल्में दी. उनका करियर तीन हिस्सों में नजर आता है. एक एंग्री यंग मैं से पहले की फ़िल्में, दूसरा 'दीवार' के बाद उनके द्वारा की गई फ़िल्में और तीसरा लाल बादशाह के बाद सशक्त केंद्रीय चरित्र अभिनेता के तौर पर उनकी फिल्में. उन्हें बॉलीवुड में फिल्मों का ट्रेंड बदलने वाला कहा जाता है. यह महानायक ही हैं जिनकी वजह से हिंदी फिल्मों में 60 की उम्र के नायकों को केंद्र में रखकर फिल्में बनाई जा रही हैं. समीक्षक इसका श्रेय अमिताभ बिना हिचक अमिताभ को देते हैं. अमिताभ के जन्म दिन के मौके पर हम उनकी फिल्मों के 25 चुनिंदा संवादों के बारे में बता रहे हैं, जो बेहद लोकप्रिय हुए.

1) रिश्ते में हम तो तुम्हारे बाप लगते हैं, नाम है शहंशाह - शहंशाह

2) डॉन को पकड़ना मुश्किल ही नहीं नामुमकीन है - डॉन

3) तुम्हारा नाम क्या है बसंती ? - शोले

4) ये तुम्हारे बाप का घर नहीं, पुलिस स्टेशन है, इसलिए सीधी तरह खड़े रहो - जंजीर

5) जाओ पहले उस आदमी का साइन ले के आओ जिसने मेरे बाप को चोर कहा था. पहले उस आदमी का साइन ले के आओ जिसने मेरी मां को गाली दे के नौकरी से निकाल दिया, पहले उस आदमी का साइन ले के आओ जिसने मेरे हाथ पे ये लिख दिया था...ये...उसके बाद, उसके बाद, मेरे भाई, तुम जहां कहोगे मैं वहां साइन कर दूंगा. -दीवार

6) कभी-कभी मेरे दिल में ख़याल आता है, कि जिंदगी तेरी जुल्फों की नर्म छाँव में गुजरने पाती तो शादाब हो भी सकती थी.- कभी कभी

8) पूरा नाम विजय दीनानाथ चौहान, बाप का नाम दीनानाथ चौहान, मां का नाम सुहाषिनी चौहान, गांव मांडवा, उम्र 36 साल. - अग्निपथ

9) घड़ी-घड़ी ड्रामा करता है साला - शोले

10) मैं और मेरी तन्हाई अक्सर यह बातें करते हैं- सिलसिला

11) मैं आज भी फेंके हुए पैसे नहीं उठाता - दीवार

12) सही बात को सही वक्त पे किया जाए तो उसका मजा ही कुछ और है, और मैं सही वक्त का इंतज़ार करता हूं - त्रिशूल

13) अंग्रेजों के जमाने के जेलर और इतनी घबराहट - शोले

14) अगर अपनी मां का दूध पिया है तो सामने आ - लावारिस

15) मूंछे हो तो नत्थू लाल जैसी - शराबी

16) गोवर्धन सेठ, समुन्दर में तैरने वाले तालाबों में डुबकी नहीं लगाया करते. - शराबी

17) मेरी हिस्ट्री जानता नहीं है तू, मेरे शरीर में हड्डी कम टांके ज्यादा हैं. - डिपार्टमेंट

18) सपने भी समुंदर की लहरों की तरह हकीकत कि छतों से टकराकर टूट जाते हैं. - दीवार

19) पैसा क्या है सिर्फ एक नंबर ना - तीन पत्ती

20) जिस तरह गोभी का फूल, फूल होकर फूल नहीं होता वैसे ही गेंदे का फूल भी फूल होकर फूल नहीं होता - चुपके-चुपके

21) आज आपके पास आपकी सारी दौलत सही, सब कुछ सही लेकिन मैंने आप से ज्यादा गरीब आज तक नहीं देखा. गुड बाय मिस्टर आरके गुप्ता. - त्रिशूल

22) जिंदगी का तम्बू तीन बम्बू पे खड़ा है- शराबी

23) अपनी शर्तों पर चलने वाले को कीमत चुकानी पड़ती है. मुझे जो सही लगता है वो मैं करता हूं. - सरकार राज

24) परम्परा, प्रतिष्ठा, अनुशासन. ये इस गुरुकुल के तीन स्तम्भ हैं. ये वो आदर्श है जिनसे हम आपका आने वाला कल बनाते हैं. - मोहब्बतें

25) अरे ये जीना भी कोई जीना है लल्लू- मिस्टर नटवरलाल

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें