scorecardresearch
 

Anek Review: बॉक्सिंग और गनफाइट के बीच असली भारतीय होने के मतलब को ढूंढ़ती है आयुष्मान खुराना की फिल्म

अनुभव सिन्हा और आयुष्मान खुराना की हिट जोड़ी एक बार फिर वापस आ गई है. इस बार दोनों नॉर्थ ईस्ट इंडिया की कहानी और कई बड़े सवालों को लेकर दर्शकों के सामने हाजिर हुए हैं. उनकी फिल्म अनेक कैसी है, ये जानने के लिए पढ़ें हमारा रिव्यू.

X
अनेक के पोस्टर में आयुष्मान खुराना और एंड्रिया केवीचुसा
अनेक के पोस्टर में आयुष्मान खुराना और एंड्रिया केवीचुसा
फिल्म:अनेक
3/5
  • कलाकार : आयुष्मान खुराना, एंड्रिया केवीचुसा, लोइतोंगबम डोरेन्द्र सिंह, कुमुद मिश्रा, मनोज पाहवा
  • निर्देशक :अनुभव सिन्हा

डायरेक्टर अनुभव सिन्हा समाज को आइना दिखाने के लिए मशहूर हैं. भारत में रहकर कौन भारतीय है और कौन नहीं, इस बात का आंकलन रोज ही कोई ना कोई सोशल मीडिया पर करता रहता है. लेकिन अब अनुभव सिन्हा ने अपनी नई फिल्म अनेक के साथ इस बड़े सवाल को पूछा है कि असली इंडियन कौन है. अनेक में आयुष्मान खुराना के एक सीन को देखकर आपको समझ आता है कि ये बात सिर्फ भाषा की नहीं है. बल्कि हमारी सोच से ज्यादा गहरी है. फिल्म अनेक नॉर्थ ईस्ट इंडिया के राजनैतिक और सामाजिक मुद्दों पर केंद्रित है.

क्या है फिल्म की कहानी?

अनेक में आयुष्मान खुराना, जोशुआ नाम के एक अंडर कवर एजेंट की भूमिका में हैं. जोशुआ नॉर्थ ईस्ट इंडिया के अलगाववादी ग्रुप्स और उनकी हरकतों पर नजर रखता है. फिल्म में सरकार अलगाववादी ताकतों और नॉर्थ ईस्ट के सबसे बड़े संगठन के लीडर टाइगर सांगा के साथ एक शांति वार्ता की तैयारी कर रही है. ऐसे में जोशुआ का काम है, जॉनसन नाम के एक्टिव हुए अलगाववादी ग्रुप को काबू में रखना, ताकि शांति वार्ता उसकी वजह से खराब ना हो. जोशुआ को यह काम दिमाग से करना था, लेकिन चीजें तब बड़ा मोड़ ले लेती हैं जब वह अपना दिल लोगों और चीजों के साथ लगा लेता है.

दूसरी तरफ है एक यंग बॉक्सर आइडो (एंड्रिया केवीचुसा) जो भारतीय टीम में शामिल होकर अपनी सोच और मांगों को आवाज देना चाहती है. आइडो सोचती है कि अगर वो अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर देश के लिए खेलेगी तो उसे अपनी बात बड़े लोगों तक पहुंचाने का मौका मिलेगा. लेकिन आइडो के घर में ही उसका पिता वांगनाओ सरकार के खिलाफ है. वांगनाओ और आइडो अपने हिसाब से अपनी-अपनी लड़ाइयां लड़ रहे हैं. ऐसे में जीत किसकी होगी, ये देखने वाली बात है.

Dhaakad की तरह निकलेगा आयुष्मान खुराना की Anek का दम या Bhool Bhulaiyaa 2 को मिलेगी टक्कर?

परफॉरमेंस 

इस फिल्म के साथ डायरेक्टर अनुभव सिन्हा ने नॉर्थ ईस्ट इंडिया और उसके लोगों की मुश्किलों को दिखाने की कोशिश की है. यह कहानी नॉर्थ ईस्ट इंडिया के भारत का हिस्सा होने और पूर्वोत्तर में रहने वालों की तरफ देश के अन्य लोगों के रवैये पर सवाल करती है. नॉर्थ ईस्ट इंडिया के लोगों की मुश्किलों और अलगाववादी संगठनों में शामिल होने वाले लोगों की जिंदगी पर अनुभव ने रोशनी डाली है. यही चीज इस फिल्म को अपने आप में अलग बनाती है.

आयुष्मान खुराना इस फिल्म के लिए एकदम सही चॉइस हैं. उन्होंने अपने एंग्री यंग मैन के रोल को बढ़िया तरीके से निभाया है. साथ ही उनका लुक काफी अच्छा लगा है. नागालैंड की एक्ट्रेस एंड्रिया केवीचुसा ने फिल्म अनेक से अपना डेब्यू किया है. उनका काम अच्छा है. इसके अलावा एक्टर मनोज पाहवा, कुमुद मिश्रा, Mipham Otsal संग सभी ने अपने रोल को सही निभाया है.

ये फिल्म अच्छी है. इसमें परफॉरमेंस भी अच्छे हैं. लेकिन फिर भी इसमें ऐसे पल है जिनकी वजह से यह फिल्म आपके सिर के ऊपर से जा सकती है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें