scorecardresearch
 

सुशांत सिंह राजपूत के '15 करोड़' का क्या है राज? ED करेगा फिल्म मेकर्स से सवाल

मामले की जांच को आगे बढ़ाते हुए ED आने वाले दिनों में कुछ और फिल्म मेकर्स को पूछताछ के लिए समन कर सकती है जिन्होंने सुशांत के साथ काम किया था.

सुशांत सिंह राजपूत सुशांत सिंह राजपूत

बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत को दुनिया से गए तकरीबन 3 महीने हो चुके हैं. देश की तीन सबसे बड़ी एजेंसियां इस रहस्य से पर्दा उठाने में लगी हैं कि सुशांत की मौत की वजह क्या थी. ड्रग्स से लेकर पैसों के लेनदेन तक इस मामले में अब तक कई नए पहलू सामने आ चुके हैं लेकिन मूलभूत सवाल अब भी जैसे का तैसा खड़ा है कि सुशांत की मौत की वजह क्या थी?

इस मामले की जांच को आगे बढ़ाते हुए ED आने वाले दिनों में कुछ और फिल्म मेकर्स को पूछताछ के लिए समन कर सकती है जिन्होंने सुशांत के साथ काम किया था. ED सुशांत केस में मनी लॉन्डरिंग वाले पहलू की पड़ताल कर रही है. एक्टर के पिता ने आरोप लगाया था कि सुशांत के अकाउंट से 15 करोड़ रुपये निकाले गए जिन्हें अलग-अलग खातों में ट्रांसफर किया गया.

दिनेश विजान से 8 घंटे पूछताछ 

मालूम हो कि हाल ही में फिल्म मेकर दिनेश विजान का बयान ईडी ने रिकॉर्ड किया है. दिनेश ने सुशांत के साथ मिलकर राब्ता फिल्म बनाई थी. फिल्म में कृति सैनन ने फीमेल लीड रोल प्ले किया था. ED ने दिनेश को सोमवार को पूछताछ के लिए बुलाया था और टीम ने विजान से तकरीबन 8 घंटे तक पूछताछ की थी. 

बता दें कि इस मामले में सुशांत की गर्लफ्रेंड रहीं रिया चक्रवर्ती, भाई शोविक चक्रवर्ती, उनका परिवार और उनके स्टाफ मेंबर्स सैमुअल मिरांडा व श्रुति मोदी पर आरोप लग चुके हैं. बीते दिनों ईडी ने रूमी जाफरी से पूछताछ की थी जिसमें उन्होंने कहा था कि वह सुशांत के साथ मिलकर एक फिल्म बनाने वाले थे लेकिन लॉकडाउन के चलते ये फिल्म साइन नहीं हो सकी.

सीनियर सिटीजन से मिले 16 लाख-
इधर NCB आर्थिक दृष्टिकोण से इस मामले की पड़ताल कर रहा है वहीं दूसरी तरफ में नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) की भी पड़ताल जारी है. इस केस में एक सीनियर सिटीजन के पास से 16 लाख रुपये बरामद किए गए हैं. इस सिटीजन के नाम का खुलासा ड्रग पेडलर क्रिश कोस्टा ने किया था. कोस्टा ने कहा था कि इस सीनियर सिटीजन ने उसे एलएसडी सप्लाई की थी, जिसके बाद उसने अनुज केशवानी को एलएसडी दी थी.

क्रिश कोस्टा की ओर से मिली जानकारी के आधार पर एनसीबी के अधिकारी गोवा में सीनियर सिटीजन के घर पहुंचे. सूत्रों ने कहा कि एनसीबी टीम को देखते ही सीनियर सिटीजन ने अपने घर का दरवाजा बंद कर लिया. वह दरवाजा खोलने से इनकार कर रहा था और किसी को अंदर नहीं आने दे रहा था.

ये भी पढ़ें-

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें