scorecardresearch
 

पॉपुलर होने के बाद भी इंडस्ट्री में नहीं जम पाईं सिमी ग्रेवाल, ये चीज पड़ी करियर पर भारी

सिमी ग्रेवाल का जन्म 17 अक्टूबर, 1947 को लुधियाना में हुआ. उन्होंने इंगलैंड में अपनी पढ़ाई पूरी की. सिमी जब पढ़ाई पूरी कर के भारत आईं तो उन्होंने फिल्मों में ट्राए किया. साल 1962 में एक्ट्रेस ने फिल्म सन ऑफ इंडिया से अपने करियर की शुरुआत की.

सिमी ग्रेवाल सिमी ग्रेवाल

60-70 का दशक ऐसा था जब बॉलीवुड इंडस्ट्री में अगर कोई सबसे बड़ा नाम था तो वे थे राज कपूर. एक सफल एक्टर और डायरेक्टर राज कपूर ने अपने करियर में एक से बढ़ कर एक फिल्में बनाई. राज कपूर की सबसे ज्यादा महत्वकांक्षी फिल्मों में से एक रही फिल्म मेरा नाम जोकर. इस फिल्म को ऋषि कपूर की डेब्यू फिल्म के तौर पर तो जाना ही जाता है साथ ही इस फिल्म में एक्ट्रेस सिमी ग्रेवाल ने ऋषि कपूर की टीचर का रोल प्ले किया था. भले ही सिमी का रोल फिल्म में छोटा था मगर ये रोल उनके करियर का सबसे यादगार रोल माना जाता है. आइए जानते हैं एक्ट्रेस सिमी के जन्मदिन पर उनके बारे में खास बातें.

सिमी ग्रेवाल का जन्म 17 अक्टूबर, 1947 को लुधियाना में हुआ. उन्होंने इंगलैंड में अपनी पढ़ाई पूरी की. सिमी जब पढ़ाई पूरी कर के भारत आईं तो उन्होंने फिल्मों में ट्राए किया. साल 1962 में एक्ट्रेस ने फिल्म सन ऑफ इंडिया से अपने करियर की शुरुआत की. उन्हें उनकी फ्लूएंट इंगलिश की वजह से टार्जन गोज टू इंडिया फिल्म में काम करने का मौका मिला. इसके बाद उन्हें देव आनंद की फिल्म तीन देवियां और दिलीप कुमार की फिल्म आदमी में काम करने का मौका मिला. इसके बाद वे दो बदन और साथी फिल्म में नजर आईं. दोनों ही फिल्मों के लिए उन्हें फिल्म फेयर के बेस्ट अवॉर्ड के लिए नवाजा गया. 

 
देखें: आजतक LIVE TV 

फिर साल 1970 में वो फिल्म भी आई जिसके लिए उन्हें आज भी जाना जाता है. फिल्म थी राज कपूर की मेरा नाम जोकर. इसके बाद भी सिमी फिल्मों में काम करती रहीं. वे अंदाज, नमक हराम, चलते चलते, कभी कभी, द बर्निंग ट्रेन, कर्ज, नसीब, बीवी ओ बीवी, लव एंड गॉड और रुखसत फिल्म में नजर आईं. इसके बाद उन्होंने फिल्मों में काम न करने का निर्णय लिया. उन्होंने फिल्मों से दूरी बना ली और वे सेलेब्रिटीज के इंटरव्यू लेने लगीं.

बता दें कि सिमी ने भले ही अपने करियर में एक से बढ़ कर एक फिल्मों में काम किया मगर वे इंडस्ट्री में लगभग दो दशक तक काम कर लेने के बाद भी लीड रोल में नजर नहीं आ सकीं, और एक लीड एक्ट्रेस के तौर पर खुद को इस्टैब्लिश नहीं कर सकीं.

मौजूदा समय में बैठतीं फिट

सिमी ग्रेवाल ने एक इंटरव्यू के दौरान खुद इस बात को कबूला था. सिमी ने एक इंटरव्यू में कहा था कि उनका ज्यादा वेस्टर्नाइज्ड होना ही उनके करियर पर भारी पड़ा. उनकी परवरिश इंगलैंड में हुई थी और इस वजह से वे उस दौरान की फिल्मों में फिट नहीं बैठ पाईं. एक्ट्रेस ने हालांकि ये कहा था कि मौजूदा समय अगर वे इंडस्ट्री में आतीं तो फिट बैठतीं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें