scorecardresearch
 

जया पर रवि किशन का पलटवार, 'जिस थाली में जहर हो उसमे छेद करना ही पड़ेगा'

लेकिन ये जुबानी जंग अभी खत्म नहीं हुई है, बल्कि दोनों तरफ से तंज कसने की ये बौछार बस शुरू हुई है. अब रवि किशन ने फिर ट्वीट कर अपने बयान पर जोर दिया है. उन्होंने कहा है कि जिस भी थाली में जहर है उसमे छेद जरूर किया जाएगा.

रवि किशन रवि किशन

एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद से बॉलीवुड और उसके ड्रग्स कनेक्शन सुर्खियों में आ गए हैं. इस विवाद को ज्यादा तूल दिया है सदन में बैठे उन नेताओं ने जिन्होंने अब इसे एक राजनीति का मु्द्दा बना लिया है. इसी कड़ी में रवि किशन ने कहा था कि वे बॉलीवुड में ड्रग्स को खत्म करके रहेंगे. उनके बयान पर जया बच्चन की तरफ से भी तीखी प्रतिक्रिया देखने को मिली. उन्होंने तंज कसते हुए कह दिया- जिस थाली में खाया उसी में छेद किया. 

रवि किशन ने दी अपने बयान पर सफाई

लेकिन ये जुबानी जंग अभी खत्म नहीं हुई है, बल्कि दोनों तरफ से तंज कसने की ये बौछार बस शुरू हुई है. अब रवि किशन ने फिर अपने बयान पर जोर दिया है. उन्होंने कहा है कि जिस भी थाली में जहर है उसमे छेद जरूर किया जाएगा. वे ट्वीट कर लिखते हैं- जिस थाली में जहर हो उसमे छेद करना ही पड़ेगा. वरिष्ठ अभिनेता राजनेताओं को तो इसमें सहयोग ही करना चाहिए. जया जी के ज़माने में केमिकल जहर नहीं था. लेकिन अब है. हमारी खूबसूरत इंडस्ट्री की महान पीढ़ी उनकी चपेट में आ रही है. हमे इसको बचाना है. 

ड्रग विवाद को स्वच्छता अभियान से जोड़ा

वहीं आजतक से बातचीत के दौरान भी रवि किशन ने अपने बयान को सही बताया है. वे कहते हैं- मैंने चंद लोगों के लिए आवाज उठाई थी. बतौर सांसद मैंने आवाज उठाई, जिसे अलग तूल दिया गया. जया जी सपा पार्टी की हैं, उन्होंने उस तरह से बात को तूल दिया. हमारी पार्टी का अभियान है स्वच्छता. हम अब इंडस्ट्री से ड्रग्स को साफ करेंगे. ये हमारी जिम्मेदारी है. 

अब रवि किशन के बयानों से तो साफ है कि वे अपने स्टैंड पर बरकरार हैं और इस मुद्दे पर लगातार खुलकर बोलते रहेंगे. वे सदन में भी इस मुद्दे को उठाएंगे और मीडिया के सामने भी बयान देते रहेंगे. ऐसे में जया बच्चन की तरफ से भी रिएक्शन आने लाजिमी हो जाएंगे और ये विवाद पूरी तरह के दो पार्टियों के बीच राजनीति का एक मुद्दा बन जाएगा.
 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें