scorecardresearch
 

Aryan Khan Drug Case: NCB की कस्टडी में आर्यन को अन्य आरोपी की तरह दिया जा रहा खाना, पढ़ने को साइंस की किताबें

बॉलीवुड सुपरस्टार शाहरुख खान के बेटे आर्यन भी इस समय मुश्किल में हैं और नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) की कस्टडी में हैं. एनसीबी लॉकअप में आर्यन ने जांच एजेंसी से कुछ साइंस की किताबें मांगी थीं, जिसे अधिकारियों ने मुहैया करवा दिया. 

Aryan Khan Aryan Khan
स्टोरी हाइलाइट्स
  • सात अक्टूबर तक एनसीबी की कस्टडी में है आर्यन खान
  • आर्यन ने एनसीबी से मांगीं साइंस की किताबें, अधिकारियों ने मुहैया करवाईं

मुंबई से गोवा जा रहे क्रूज जहाज में रेव पार्टी में ड्रग्स का इस्तेमाल होने का मामला सामने आने के बाद से हड़कंप मचा हुआ है. पिछले साल सामने आए बॉलीवुड में ड्रग्स कनेक्शन के बाद यह पहली बार हुआ है, जब बड़े चेहरे फंसते हुए दिखाई दे रहे हैं. बॉलीवुड सुपरस्टार शाहरुख खान के बेटे आर्यन भी इस समय मुश्किल में हैं और नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) की कस्टडी में हैं. एनसीबी लॉकअप में आर्यन ने जांच एजेंसी से कुछ साइंस की किताबें मांगी थीं, जिसे अधिकारियों ने मुहैया करवा दिया. 

जानकारी के अनुसार, आर्यन खान को अन्य आरोपियों के साथ ही एनसीबी दफ्तर के पास बने नेशनल हिन्दू रेस्टोरेंट का खाना खिलाया जा रहा है. किसी भी आरोपी को घर से मनपसंद खाना एनसीबी दफ्तर में मंगाने की अनुमति नहीं दी गई है. आर्यन को भी इसी रेस्टोरेंट से खाना मंगाकर दिया जा रहा है. दोनों समय एनसीबी कस्टडी में सभी आरोपियों को एक साथ ही खाना दिया जाता है.

फॉरेंसिंक जांच को भेजा गया आर्यन का फोन

क्रूज से आर्यन को हिरासत में लिए जाने के फौरन बाद ही अधिकारियों ने उसका मोबाइल फोन भी कब्जे में ले लिया था. सूत्रों की मानें तो एनसीबी के अधिकारियों को वॉट्सऐप चैट्स के जरिए से ड्रग्स को लेकर कई अहम जानकारियां मिली हैं. अब और अधिक जानकारी हासिल करने के लिए आर्यन और बाकी अन्य आरोपियों के मोबाइल फोन्स को गांधी नगर की देश की सबसे बड़ी फॉरेंसिंक लैब में जांच के लिए भेज दिया गया है. माना जा रहा है कि आने वाले दिनों में एनसीबी इस मामले से जुड़े कई और भी अहम खुलासे कर सकती है.

सात अक्टूबर तक एनसीबी कस्टडी में है आर्यन

आर्यन खान को गिरफ्तार किए जाने के बाद कोर्ट में पेश किया गया था, जहां से पहले एक दिन की कस्टडी मिली थी. इसके बाद जब सोमवार को फिर से उसे अन्य आरोपियों के साथ अदालत में पेश किया गया तो कोर्ट ने सात अक्टूबर तक के लिए एनसीबी की कस्टडी में भेज दिया है. आर्यन का केस वरिष्ठ वकील सतीश मानशिंदे देख रहे हैं. उन्होंने कोर्ट में आर्यन को कस्टडी से बचाने के लिए कई तर्क दिए, लेकिन अदालत ने आर्यन को तीन और दिनों की कस्टडी में भेज दिया. एनसीबी रिमांड में कहा गया था कि आर्यन खान के फोन में तस्वीरों के रूप में चौंकाने वाली आपत्तिजनक चीजें मिली हैं. एनसीबी ने 11 तारीख तक और हिरासत की मांग की गई थी. सूत्रों के अनुसार, आर्यन के फोन से चैट के रूप में कई लिंक्स मिले हैं, जो इंटरनेशनल ड्रग्स ट्रैफिकिंग की ओर संकेत देते हैं.


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें