scorecardresearch
 

UP: BJP का विजय रथ रोकने में नाकाम रहा राहुल-अखिलेश का साझा प्रचार

वाराणसी में राहुल और अखिलेश यादव ने खास जोर लगाया था. मोदी को चुनौती देने के लिए रोड शो और साझा प्रेस कांफ्रेंस भी की. लेकिन यहां की 8 सीटों में से 6 सीटों पर बीजेपी का परचम बुलंद हुआ है.

काम नहीं आया साझा प्रचार काम नहीं आया साझा प्रचार

समाजवादी पार्टी और कांग्रेस को अबकी बार 'यूपी के अपने लड़कों' से खासी उम्मीद थी. इस उम्मीद का क्या हश्र हुआ नतीजे इसकी कहानी बयां करते हैं. लेकिन गठबंधन उन जगहों पर भी औंधे मुंह गिरा जहां राहुल और अखिलेश मिलकर चुनाव प्रचार में उतरे थे. दोनों नेताओं ने कुल 7 इलाकों में रोड शो और रैलियां की थीं. एक नजर इन इलाकों के चुनावी नतीजों पर.

आगरा
पिछली बार आगरा में बीएसपी पहले नंबर पर रही थी. लेकिन इस बार 9 में से 8 सीटें बीजेपी को मिलनी तय हैं. बीएसपी सिर्फ एतमादपुर में आगे है.

वाराणसी
मोदी के इस गढ़ में राहुल और अखिलेश यादव ने खास जोर लगाया था. मोदी को चुनौती देने के लिए रोड शो और साझा प्रेस कांफ्रेंस भी की. लेकिन यहां की 8 सीटों में से 6 सीटों पर बीजेपी का परचम बुलंद हुआ है.

Exclusive Election Result TV: अंजना ओम कश्यप के साथ Live

इलाहाबाद
एक वक्त था जब ये इलाका कांग्रेस का अभेद्य गढ़ था. लेकिन इस बार यहां की 12 में से 9 सीटें बीजेपी की झोली में गई हैं. पिछली बार इतनी ही सीटों पर समाजवादी पार्टी और कांग्रेस के उम्मीदवारों का कब्जा था.

लखनऊ
पिछले चुनाव में यहां की 9 में से 7 सीटें जीतने वाली समाजवादी पार्टी को इसी तरह के प्रदर्शन की उम्मीद थी. लेकिन जनता ने छह सीटों पर बीजेपी उम्मीदवारों को चुना है. मुलायम परिवार की सदस्य अपर्णा यादव भी सीट नहीं बचा पाई हैं.


Assembly Election Results 2017: चुनाव नतीजों की विस्तृत करवेज Live

कानपुर
कानपुर में कुल 10 विधानसभा सीटें हैं. इनमें से 7 बीजेपी के खाते में गई हैं. समाजवादी पार्टी को 2 और कांग्रेस को 1 सीट पर संतोष करना पड़ा है. यहां राहुल गांधी और अखिलेश यादव ने 5 फरवरी को साझा रैली की थी.

गोरखपुर
योगी आदित्यनाथ के इस गढ़ में चिल्लूपार सीट पर बीएसपी उम्मीदवार को छोड़ दें तो सभी 9 सीटों पर बीजेपी को जीत हासिल हुई है. यानी राहुल गांधी और अखिलेश यादव की रैली यहां भी बेअसर साबित हुई.

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों में किसे मिल रही है जीत, देखिए India Today पर Live

झांसी
बुंदेलखंड की 19 सीटों पर नजर के साथ यहां भी राहुल गांधी और अखिलेश यादव एक साथ चुनावी मैदान मे उतरे थे. पिछली बार समाजवादी पार्टी यहां बीएसपी के बाद दूसरे नंबर पर रही थी. लेकिन इस बार बीजेपी इस इलाके में क्लीन स्वीप करने में कामयाब रही है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें