scorecardresearch
 

तमिलनाडु: स्टालिन ने साधा AIADMK पर निशाना, कहा- यह चुनाव तमिल आत्मसम्मान की लड़ाई

रैली के दौरान स्टालिन AIADMK पर निशाना साधा कहा कि यह चुनाव तमिल समुदाय के आत्मसम्मान की लड़ाई वाला चुनाव है. NEET और GST जैसे मुद्दों पर उन्होंने AIADMK पर निशाना साधते हुए कहा कि राज्य सरकार ने बिना किसी विरोध प्रदर्शन के राज्य में इन चीजों को लागू होने दिया.

रैली के दौरान एमके स्टालिन. रैली के दौरान एमके स्टालिन.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • AIADMK पर स्टालिन ने साधा निशाना
  • रैली के दौरान लोगों से की मास्क लगाने की अपील
  • 'डीएमके ही दे सकती है सुशासन'

तमिलनाडु में चुनाव की तारीखों के नजदीक आने के साथ ही पार्टियों ने चुनाव प्रचार तेज कर दिया है. शुक्रवार को द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (DMK) के अध्यक्ष एमके स्टालिन ने तिरुपुर में चुनाव प्रचार किया. यहां उन्होंने अपनी पार्टी के लिए लोगों से समर्थन मांगा. 

रैली के दौरान उन्होंने AIADMK पर निशाना साधा और कहा कि यह चुनाव तमिल समुदाय के आत्मसम्मान की लड़ाई वाला चुनाव है. NEET और GST जैसे मुद्दों पर उन्होंने AIADMK पर निशाना साधते हुए कहा कि राज्य सरकार ने बिना किसी विरोध प्रदर्शन के राज्य में इन चीजों को लागू होने दिया. उन्होंने कहा कि एआईएडीएमके के पास ऐसी कोई उपलब्धि नहीं है जिसके आधार पर वो डीएमके की आलोचना कर सके.

स्टालिन पहले भी AIADMK पर निशाना साध चुके हैं. वह लगातार पार्टी पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाते आए हैं. हाल ही में उन्होंने कहा था कि इस समय की सरकार में भ्रष्टाचार भरा हुआ है. हमने राज्यपाल को भी लिखा है कि वो एक्शन लें. राज्य सरकार ने सड़क निर्माण में 300 करोड़ का भ्रष्टाचार किया है. उन्होंने अपने बच्चों के ससुराल वालों को इस सड़क को बनाने का कॉन्ट्रैक्ट दिया था. उनकी शिकायत हुई तो उन पर कोर्ट ने बैन लगा दिया. इस समय की राज्य सरकार केंद्र सराकर के दबाव में काम कर रही है. अगले 10 सालों तक डीएमके ही राज्य में सरकार बनाकर रखेगी. बीजेपी एआईडीएमके के जरिए राज्य में आना चाहती है. लेकिन ऐसा नहीं हो पाएगा.

स्टालिन ने अपनी रैली के  दौरान लोगों से मास्क पहनकर रहने और कोरोना से बचने की भी अपील की. रैली के दौरान उन्होंने डीएमके की तरफ से जारी घोषणापत्र की भी चर्चा की और बुनकरों को सस्ती बिजली और सुविधाएं देने की बात कही. उन्होंने कहा कि लोगों को पता है कि डीएमके ही सही शासन लोगों को दे सकती है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें