scorecardresearch
 

मेरी लड़ाई राजनाथ, रीता से नहीं व्यवस्था से: जावेद जाफरी

अभिनय से राजनीति में आए लखनऊ लोकसभा सीट से आम आदमी पार्टी (आप) के उम्मीदवार जावेद जाफरी ने आज कहा कि उनकी लड़ाई बीजेपी अध्यक्ष राजनाथ सिंह या कांग्रेस नेता रीता बहुगणा जोशी से नहीं, बल्कि भ्रष्टाचार पूर्ण व्यवस्था से है.

X
जावेद जाफरी जावेद जाफरी

अभिनय से राजनीति में आए लखनऊ लोकसभा सीट से आम आदमी पार्टी (आप) के उम्मीदवार जावेद जाफरी ने आज कहा कि उनकी लड़ाई बीजेपी अध्यक्ष राजनाथ सिंह या कांग्रेस नेता रीता बहुगणा जोशी से नहीं, बल्कि भ्रष्टाचार पूर्ण व्यवस्था से है.

लखनऊ में सातवें चरण के तहत बुधवार को होने वाले मतदान से एक दिन पहले जाफरी ने कहा कि वह ईमानदारी की लड़ाई लड़ रहे हैं, इसलिए सामने कोई भी हो, चुनौती स्वीकार की है. सियासी नजरिए से अति महत्वपूर्ण मानी जाने वाली इस सीट पर जावेद जाफरी दिग्गजों के बीच मुकाबले में घिर गए हैं.

लखनऊ में राजनाथ पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की विरासत को संभालने उतरे हैं तो कांग्रेस से कद्दावर नेता रीता बहुगुणा जोशी मैदान में हैं. सपा ने यूपी सरकार के युवा मंत्री और आईआईएम से पढ़े अभिषेक मिश्रा को अपना प्रत्यशी बनाया है.

बहुकोणीय मुकाबले के बारे में पूछे जाने पर जाफरी ने कहा कि हम ईमानदारी की राजनीति के लिए, सच्‍चाई के लिए लड़ रहे हैं. फिर सामने कोई भी हो, चुनौती स्वीकार की है. उन्होंने कहा कि लखनऊ की जनता उन्हें अपार समर्थन और प्यार दे रही है जिसकी उन्होंने उम्मीद नहीं थी.

जाफरी ने कहा कि अगर वह शहर से संसद पहुचते हैं, तो एक क्षेत्र के लिए रोटी, कपड़ा, मकान, शिक्षा एवं सुरक्षा पर विशेष ध्यान देंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें