scorecardresearch
 

PM मोदी ने पूछा- लालू जी विपक्ष का नेता आपका बेटा तेजस्वी होगा या नीतीश बाबू?

बिहार में 5वें चरण के मतदान से पहले प्रचार के लिए दरभंगा पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महागठबंधन के सामने बड़ा सवाल खड़ा कर दिया है. पीएम ने सोमवार को चुनावी मंच से आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद से सवाल किया कि नीतीश को उनका समर्थन मुख्यमंत्री पद के लिए है, लेकिन जब महागठबंधन चुनाव हारेगी तो विपक्ष के नेता के पद पर वह अपने बेटे तेजस्वी यादव को देखना चाहेंगे या नीतीश कुमार को?

दरभंगा में रैली को संबोधि‍त करते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दरभंगा में रैली को संबोधि‍त करते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

बिहार में 5वें चरण के मतदान से पहले प्रचार के लिए दरभंगा पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महागठबंधन के सामने बड़ा सवाल खड़ा कर दिया है. पीएम ने सोमवार को चुनावी मंच से आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद से सवाल किया कि नीतीश को उनका समर्थन मुख्यमंत्री पद के लिए है, लेकिन जब महागठबंधन चुनाव हारेगी तो विपक्ष के नेता के पद पर वह अपने बेटे तेजस्वी यादव को देखना चाहेंगे या नीतीश कुमार को?

अपने चिर-परिचित अंदाज में लालू-नीतीश पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, 'मैं लालू जी से पूछना चाहता हूं कि उन्होंने नीतीश कुमार को समर्थन मुख्यमंत्री बनने के लिए दिया है. लेकिन लालू जी, नीतीश बाबू और सोनिया बहन आप चुनाव हार रहे हैं. तो मैं लालू जी से पूछना चाहता हूं क‍ि ऐसे में बिहार में विपक्ष का नेता कौन होगा. उनका बेटा तेजस्वी या नीतीश कुमार. बिहार की जनता यह जानना चाहती है कि उनका विपक्ष का नेता कौन होगा.'

दरभंगा के लोगों से 5 नवंबर को रिकॉर्ड मतदान की अपील करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि वह विकास के लिए वोट मांगने आए हैं. उन्होंने कहा, 'मैं विकास के लिए आशीर्वाद मांगने आया हूं. आप रिकॉर्ड मतदान करें और उसे वोट दें जो विकास करेगा. यह चुनाव अहंकार के खात्मे का चुनाव है. आप एनडीए को चुने.' पीएम ने इस दौरान आरक्षण को मुद्दा बनाने पर लालू-नीतीश की खिंचाई की. उन्होंने कहा, '2005 में यही लोग आरक्षण पर विचार की बात कर रहे थे. ये बताएं कि किसका आरक्षण कम करना चाहते थे.'

पढ़ें, दरभंगा रैली में प्रधानमंत्री के भाषण के मुख्य अंश-

-लालू-नीतीश की आंखों पर अहंकार की पट्टी बंधी हुई है.

-लालू जी ने नीतीश कुमार का समर्थन मुख्यमंत्री पद के लिए किया है. चुनाव हारे तो विपक्ष का नेता कौन होगा.

-मैं लालू जी को पूछना चाहता हूं. आपका हारना तय है. आपका डूबना तय है. ये बताओ विपक्ष का नेता कौन है. लालू जी का बेटा तेजस्वी यादव होगा या नीतीश बाबू होंगे?

-इन्होंने 25 साल राज किया. 25 साल में एक बच्चा युवा हो जाता है. मैं पूछना चाहता हूं कि इतने समय में आपने बिहार को क्या दिया?

-आतंकी हमलों के बाद एक शब्द चला दरभंगा मॉड्यूल. दरभंगा में बैठकर कुछ लोग आतंकी गतिविधि‍ चलाने का प्रयास कर रहे थे.

-क्या बिहार में आतंकवाद को आने देना है? पटना में मेरी सभा थी तो बम धमाके कर दिए.

-बिहार का भाग्य बदलने के लिए ऐसे लोगों की जरूरत है क्या?

-हमने विकास के लिए बिहार को एक लाख 65 हजार करोड़ का पैकेज दिया.

-महागठबंधन के लोग एक साथ मंच पर खड़े नहीं रह सकते.

-बिहार का भाग्य बदलने के लिए एनडीए को वोट दें.

-बिहार में ऐसी सरकार बनाइए, ऐसा इंजन लगाइए कि बिहार देखते-देखते गड्ढे में से बाहर आ जाए.

-लालू-नीतीश विकास का 'व' नहीं बोल सकते, इसलिए उन्होंने जाति को मुद्दा बनाया. आरक्षण की रट लागाई.

-इन्होंने काल्पनिक भय पैदा किया और आरक्षण के नाम का हौआ तैयार किया.

-जब इनका गुब्बारा पूरा बड़ा हो गया तो मैंने छोटी सी सूई लगा दी. ऐसे गिरे कि अभी तक नहीं उठे.

-यही लालू-नीतीश जी ने जुलाई 2005 में आरक्षण पर फिर से विचार की मांग की थी.

-एक मंच से उन्होंने आरक्षण का मुद्दा उठाया था ताकि कुर्सी बची रहे.

-वो बिहार की जनता को बताएं किसका आरक्षण छीनना चाहते हैं?

-मैं यही कहना चाहता हूं आना है तो ईमानदारी के साथ चुनाव के मैदान में आओ.

-लालू-नीतीश ने जनता के साथ किया वादा तोड़ा, जनता ऐसे लोगों को स्वीकार नहीं करती.

-बिहार की जनता देती है तो छप्पड़ फाड़ कर देती है और लेती है तो चुन-चुनकर लेती है.

-कांग्रेस को 35 साल दिए, अब कांग्रेस कहीं नजर नहीं आती. लालू जी को मौका दिया अब उनका परिवार कहीं नजर नहीं आता.

-अब बारी अहंकार के खात्मे की है. इस चुनाव में जनता महास्वार्थ को खत्म करेगी.

-नीतीश ने वादा किया था कि भ्रष्टाचार में कोई पकड़ा जाएगा तो उसका मकान जब्त करेंगे, उसमें स्कूल खोलेंगे. अभी कुछ दिन पहले उनके मंत्री कैमरे के सामने लाखों रुपये लेते पकड़े गए. पक्का भ्रष्टाचार है. क्या नीतीश बाबू ने उनका बंगला जब्त किया?

-लालू जी पर भ्रष्टाचार का आरोप अदालत ने मान्य रखा है. नीतीश बाबू आपने उनका बंगला जब्त किया क्या? अरे आप तो उसी मकान में उनसे गले मिलने गए.

-ये करप्शन वाला दिमाग देश को खत्म कर रहा है. हम उसे खत्म करने को निकले हैं.

-क्या बिहार के गरीबों को जमीन गिरवी रखकर बच्चों को पढ़ाई के लिए बाहर भेजना दंश नहीं है?

-मैं आपसे विकास के लिए आशीर्वाद मांगने आया हूं. आप विकास के लिए वोट कीजिए.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें