scorecardresearch
 

ब्लॉकबस्टर होगा काशी का कुरुक्षेत्र, केजरीवाल के बाद अब दिग्वि‍जय देंगे मोदी को टक्कर?

लोकसभा चुनाव में 'काशी का कुरुक्षेत्र' समय के साथ और भी मजेदार होता जा रहा है. बनारस सीट से बीजेपी के पीएम कैंडिडेट नरेंद्र मोदी को आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने चुनौती देने का दम भरा तो कांग्रेस कैसे पीछे रहती. कांग्रेस इस सीट से अपने फायरब्रांड नेता दिग्विजय सिंह को टिकट देने पर विचार कर रही है.

मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ेंगे दिग्विजय सिंह? मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ेंगे दिग्विजय सिंह?

लोकसभा चुनाव में 'काशी का कुरुक्षेत्र' समय के साथ और भी मजेदार होता जा रहा है. बनारस सीट से बीजेपी के पीएम कैंडिडेट नरेंद्र मोदी को आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने चुनौती देने का दम भरा तो कांग्रेस कैसे पीछे रहती. कांग्रेस इस सीट से अपने फायरब्रांड नेता दिग्विजय सिंह को टिकट देने पर विचार कर रही है.

कांग्रेस सूत्रों के हवाले से खबर है कि कांग्रेस आलाकमान वैसे तो इस सीट के लिए कई दावेदारों के नाम पर विचार कर रहा है पर दिग्विजय सिंह ही इसमें सबसे बड़ा नाम है. उनकी उम्मीदवारी पर पार्टी के स्थानीय कार्यकर्ताओं से भी बात की गई है.

दूसरी तरफ, दिग्विजय सिंह ने बनारस से चुनाव लड़ने पर हामी भर दी है. दिग्विजय सिंह ने यह संदेश दिया है कि अगर उन्हें टिकट मिला तो वो बनारस में मोदी से भिड़ने को तैयार हैं. हालांकि, उनकी उम्मीदवारी पर फैसला पार्टी हाईकमान करेगी, जिसपर स्थिति शुक्रवार को ही साफ हो सकेगी.

वैसे अरविंद केजरीवाल की उम्मीदवारी का भी कोई औपचारिक ऐलान नहीं हुआ है. हालांकि, केजरीवाल ने बैंगलोर में एक रैली में यह कहा था कि अगर बनारस की जनता चाहती है तो वह मोदी के खिलाफ लड़ेंगे. इस बाबत 25 मार्च को बनारस में ही पार्टी की रैली होने वाली है. AAP का कहना है कि रैली का मकसद केजरीवाल की उम्मीदवारी पर जनता से रायशुमारी करना है. पर अंदरखाने से यह खबर है कि AAP ने केजरीवाल को मैदान में उतारने का मन बना लिया है.

अमृतसर में जेटली को चुनौती देंगे कैप्टन अमरिंदर सिंह
कांग्रेस अमृतसर में बीजेपी नेता अरुण जेटली के सामने बड़ी चुनौती खड़ी करने की तैयारी में है. सूत्रों के हवाले से खबर है कि पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह इस सीट से चुनाव लड़ सकते हैं. गौरतलब है कि अमृतसर सीट से 2009 में बीजेपी के टिकट पर नवजोत सिंह सिद्धू चुनाव जीते थे. लेकिन, इस बार NDA की सहयोगी अकाली दल के विरोध के कारण बीजेपी को उनकी जगह दूसरा उम्मीदवार उतारना पड़ा. राज्यसभा के नेता प्रतिपक्ष अरुण जेटली अब लोकसभा चुनाव में अपनी किस्मत आजमाने वाले हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें