scorecardresearch
 

अमित शाह ने आजमगढ़ को बताया आतंकियों का ठिकाना, सपा ने जताई आपत्ति

भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और पार्टी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी के निकट सहयोगी अमित शाह द्वारा आजमगढ़ को आतंकवादियों का ठिकाना कहे जाने पर समाजवादी पार्टी ने चुनाव आयोग से उनके खिलाफ कार्रवाई की मांग की है.

अमित शाह (फाइल फोटो) अमित शाह (फाइल फोटो)

भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और पार्टी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी के निकट सहयोगी अमित शाह द्वारा आजमगढ़ को आतंकवादियों का ठिकाना कहे जाने पर समाजवादी पार्टी ने चुनाव आयोग से उनके खिलाफ कार्रवाई की मांग की है.

अमित शाह ने रविवार को आजमगढ़ लोकसभा सीट से पार्टी उम्मीदवार रमाकांत यादव के समर्थन में आयोजित एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, ‘आजमगढ़ आतंकवादियों का ठिकाना है, इसलिए कि सपा सरकार उनको (आतंकी मामलों में गिरफ्तार) छोड़ने की पैरवी कर रही है.’

उन्होंने कहा, ‘यूपी में सरकार का कोई डर नहीं है. गुजरात बम विस्फोट के आरोपी भी आजमगढ़ के थे, जिन्हें गृहमंत्री रहते हुए हमने गिरफ्तार करवाया. तब से आज तक गुजरात में कोई आतंकी घटना नहीं हुई.’

अमित शाह की इस टिप्पणी पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए सपा नेता सीपी राय ने कहा है कि चुनाव आयोग को उनकी इस टिप्पणी का संज्ञान लेकर उचित कार्रवाई करनी चाहिए.

राय ने कहा, ‘अमित शाह की टिप्पणी आजमगढ़ की धरती का अपमान है. बीजेपी साम्प्रदायिकता फैलाकर चुनाव जीतना चाहती है. चुनाव आयोग को शाह की टिप्पणी का फौरन संज्ञान लेना चाहिए. हालांकि आयोग एक बार उनके खिलाफ कार्रवाई कर चुका है, लेकिन वे सुधरने को तैयार नहीं लगते.’

अमित शाह ने समाजवादी पार्टी के मुखिया मुलायम सिंह यादव पर हमला बोलते हुए कहा, ‘उनका समाजवाद परिवारवाद बढा़ने में है.’ उन्होंने मैनपुरी के साथ ही आजमगढ़ से चुनाव लड़ रहे सपा मुखिया पर एक और बाण छोड़ते हुए आरोप लगाया कि वे अपने दूसरे बेटे के लिए राजनीतिक जमीन तैयार कर रहे हैं.
बीजेपी नेता ने कांग्रेसनीत यूपीए सरकार पर भ्रष्टाचार के आरोप दोहराते हुए कहा कि इसके दस साल के शासनकाल में 12 लाख करोड़ रुपये का घोटाला हुआ है और यह भ्रष्टतम सरकार साबित हुई है.

उन्होंने केन्द्र सरकार पर सीमा की सुरक्षा का ध्यान नहीं रखने का आरोप लगाते हुए दावा किया कि केन्द्र में मोदी सरकार बनने के बाद चीन और पाकिस्तान अपने आप ही अपनी सीमा रेखा के 30 किमी अंदर चले जाएंगे.

अमित शाह ने उत्तर प्रदेश की बदहाली के लिए जातिवादी राजनीति को जिम्मेदार ठहराया और कहा सपा मुखिया मुलायम और बीएसपी मुखिया मायावती प्रधानमंत्री बनने का ख्वाब देख रहे हैं, जबकि उत्तर प्रदेश के बाहर इनका कोई वजूद नहीं है.

बलिया में पार्टी उम्मीदवार भरत सिंह के समर्थन में एक जनसभा को संबोधित करते हुए अमित शाह ने दावा करते हुए कहा, ‘बीजेपी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी 14 साल से गुजरात के मुख्यमंत्री हैं, मगर उन पर घोटाले का एक भी आरोप नहीं है.’

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें