scorecardresearch
 

राहुल की कर्नाटक में कार्पेट बॉम्बिंग: 21 दिन, 23 रैली और 134 कॉर्नर मीटिंग

राहुल गांधी ने अपने तूफानी प्रचार कार्यक्रम के दौरान पूरे राज्य में लगभग 23 मेगा रैलियां की और लगभग 134 मीटिंग कीं वहीं, राहुल ने राज्य में 43 रोड शो करते हुए लगभग 36 हजार किलोमीटर का सफर किया.

राहुल गांधी का कर्नाटक चुनाव में प्रचार अभियान राहुल गांधी का कर्नाटक चुनाव में प्रचार अभियान

कर्नाटक विधानसभा चुनावों में बाजी मारने के लिए दोनों बीजेपी और कांग्रेस ने पूरे राज्य में जमकर प्रचार किया. जहां बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह समेत देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तूफानी दौरा किया और दर्जनों रैलियों को संबोधित किया, वहीं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी फरवरी से लेकर मई तक कर्नाटक का 9 बार दौरा किया. राहुल गांधी ने अपने तूफानी प्रचार कार्यक्रम के दौरान पूरे राज्य में लगभग 23 मेगा रैलियां की और लगभग 134 मीटिंग कीं. यही नहीं, राहुल ने राज्य में 43 रोड शो करते हुए लगभग 36 हजार किलोमीटर का सफर भी किया. खास बात है कि इस 9 चरण में कर्नाटक यात्रा के दौरान राहुल गांधी 30 जिलों को कवर करते हुए कुल 162 विधानसभा क्षेत्रों का दौरा किया.

जानें राहुल गांधी का कर्नाटक में कैम्पेन

पहला चरण (4 दिन)

राहुल गांधी ने कर्नाटक का प्रचार अभियान फरवरी में शुरू किया. पहले चरण में वह 10 अप्रैल से लेकर 13 अप्रैल तक कर्नाटक में रहे. इस चरण के दौरान राहुल ने कोप्पल, रायचुर, यादगीर, गुलबर्गा और बीदर जिले में यात्रा की. इस यात्रा में राहुल ने एक दर्जन से अधिक पब्लिक मीटिंग की तो लगभग एक दर्जन कॉर्नर मीटिंग भी कीं. वहीं इस चरण के दौरान राहुल ने कोप्पल के हूलीगेम्मा मंदिर, गावी सिद्देश्वर मठ के साथ-साथ कलबुर्गी के शराना बासावेश्वरा मंदिर पहुंच कर दर्शन किया.

दूसरा चरण (3 दिन)

कर्नाटक में प्रचार के लिए दूसरे चरण में राहुल गांधी 24 से 26 फरवरी तक कर्नाटक में रहे. इस चरण के दौरान उन्होंने बेलगाम, बीजापुर और धारवाड़ जिले में कई पब्लिक रैलियां की. इस चरण के दौरान राहुल गांधी ने 6 पब्लिक रैलियां कीं. इस चरण में राहुल ने बेलगाम में श्री येलम्मा रेनुका देवी मंदिर और गोडची मंदिर में दर्शन भी किया.

तीसरा चरण (2 दिन)

राहुल गांधी ने कर्नाटक प्रचार के तीसरे चरण में दो दिन कर्नाटक में बिताए. इस दौरान वह 20 और 21 मार्च को कर्नाटक के उडुपी, दक्षिण कन्नडा, चिकमंगलूर हासन दिले में रैलियां,पब्लिक मीटिंग और कई मंदिरों और मठों में दर्शन किया. दो दिन की इस यात्रा के दौरान राहुल श्रृंगेरी, शारदंबा मंदिर, मैंगलोर के रोसारिया चर्च के साथ-साथ जगदगुरू शंकराचार्य से मिलने श्रृंगेरी मठ पहुंचे.

चौथा चरण (2 दिन)

कर्नाटक प्रचार के चौथे चरण में राहुल गांधी 24 और 25 मार्च को राज्य पहुंचे. इस दौरान राहुल गांधी ने मैसूर, चमाराजनगर और मान्ड्या जिले में पार्टी के लिए प्रचार किया. इन दो दिनों के दौरान राहुल ने मैसूर के चामुंडेश्वरी मंदिर में दर्शन के साथ-साथ कई पब्लिक मीटिंग की.

पांचवां चरण (2 दिन)

राहुल गांधी ने पांचवें चरण के दौरान दो दिन प्रचार किया. इस दौरान पर 3 और 4 अप्रैल के दौरान शिमोगा, दवनगिरी, चित्रदुर्ग, टुमकुर और रामानगर जिले में प्रचार किया. इस सत्र के दौरान राहुल ने कई पब्लिक मीटिंग कीं और देवानगिरी में असंगठित क्षेत्र के मजदूरों की सभा के साथ-साथ कारोबारियों से मुलाकात की. वहीं इस दौरान राहुल गांधी ने टुमकुर केसिद्दगंगा मठ भी पहुंचे.

छठा चरण (2 दिन)

कर्नाटक प्रचार के दौरान राहुल छठे चरण में दो दिन कोलार और बेंगलुरु में प्रचार किया. राहुल गांधी ने 7 और 8 अप्रैल को कई कॉर्नर मीटिंग के साथ-साथ पब्लिक मीटिंग को संबोधित किया. इस चरण में राहुल गांधी ने कुरुदुमाले गनापथी मंदिर का दर्शन भी किया. इसके अलावा वह पैरा कार्मिकों के समूह से भी मिले.

सातवां चरण (1 दिन)

सातवें चरण के दौरान राहुल गांधी 26 अप्रैल को कर्नाटक के उत्तर कन्नड क्षेत्र में रहे. यहां राहुल ने अंकोला सिटी में एक बड़ी पब्लिक रैली को संबोधित किया. इसके अलावा इसी दिन राहुल ने भटकल, होन्नावर और कुमता में कॉर्नर मीटिंग कर जनता को संबोधित किया.

आठवां चरण (2 दिन)

राहुल गांधी ने राज्य में 3 और 4 मई के दौरान बीदर, कलबर्गी, गडाग, हावेरी जिले में चुनाव प्रचार किया. इस चरण के दौरान राहुल ने कलबुर्गी में एक बड़ी जनसभा को संबोधित करते हुए लगभग आधा दर्जन कॉर्नर मीटिंग कीं.

नौवां चरण (3 दिन)

कर्नाटक चुनाव में प्रचार के अपने आखिरी चरण के लिए राहुल गांधी 7 मई को कर्नाटक पहुंचे और 9 मई तक राज्य में रहे. इस दौरान राहुल गांधी कोलार, बेंगलुरु, बेंगलुरु रूरल, चिक्काबाल्लापुर, टुमकुर में कई जनसभाओं को संबोधित किया. इस आखिरी चरण में राहुल ने बेंगलुरु के मशहूर डोडा गणपति मंदिर में दर्शन किया. इसी यात्रा के दौरान राहुल गांधी ने पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों के विरोध में केंद्र सरकार पर निशाना साधा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें