scorecardresearch
 

7वीं बार विधानसभा चुनाव लड़ रहा है हरियाणा की राजनीति का यह 'गब्बर सिंह'

अनिल विज सातवीं बार विधानसभा का चुनाव लड़ रहे हैं और अब तक वह साल 2005 में सिर्फ एक बार चुनाव हारे हैं. साल 1996 और 2000 में अनिल विज ने बतौर आजाद उमीदवार चुनाव लड़ा और भारी मतों से जीतकर विधान सभा पहुंचे.

हरियाणा के खेल और स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज हरियाणा के खेल और स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज

  • अनिल विज ने अब तक लड़े 6 चुनाव और 5 बार जीते
  • बाबा जी, गब्बर सिंह जैसे नामों से समर्थकों में मशहूर

हरियाणा के कैबिनेट मंत्री अनिल विज ने बैंकर के तौर पर अपने करियर की शुरुआत की थी. जिसके बाद अनिल विज ने अपने राजनैतिक जीवन की शुरुआत अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के एक छात्र नेता के रूप में की थी.

कब लड़ा पहला चुनाव

उन्होंने अपने जीवन का सबसे पहला चुनाव साल 1990 में लड़ा और जीता था. ये हरियाणा विधानसभा  के अंबाला कैंटोनमेंट सीट का उपचुनाव था जो स्वर्गीय सुषमा स्वराज के राज्यसभा में चुने जाने के बाद खाली हुई थी.

अनिल विज सातवीं बार विधानसभा का चुनाव लड़ रहे हैं और अब तक वह साल 2005 में सिर्फ एक बार चुनाव हारे हैं. साल 1996 और 2000 में अनिल विज ने बतौर आजाद उमीदवार चुनाव लड़ा और भारी मतों से जीत कर विधान सभा पहुंचे.

साफ-सुथरी छवि के कारण हुए लोकप्रिय

बताया जाता है कि अनिल विज अपने समर्थकों में कई नामों से प्रसिद्ध हैं जिनमें दाढ़ी रखने के कारण 'बाबा जी' और नकारे अधिकारियों पर बरसने वाले 'गब्बर सिंह' के नाम खास हैं.

स्पष्वादी अनिल विज अपनी बात साफ और बिना किसी लाग लपेट के कह देते हैं. बार-बार स्थानांतरण झेलने वाले अधिकारी अशोक खेमका के समर्थन में उतर कर अनिल विज ने अपनी ही सरकार के खिलाफ भी बिगुल बजा दिया था.

कब होंगे अनिल विज रिटायर

अनिल विज हरियाणा विधानसभा के अगले चुनाव तक 71 साल के हो जाएंगे. यानी एक ऐसी उम्र जिसमें भाजपा नेताओं को रिटायर कर देती है लेकिन अनिल विज फिलहाल रिटायर होने के मूड में नहीं है.

अनिल विज अविवाहित हैं और अपने तीन भाइयों के संयुक्त परिवार के साथ रहते हैं. विज हर रोज सुबह 9 बजे से 12 बजे के बीच अपना दरबार लगाते हैं. इस बीच  200 से 300 लोग हर रोज उनसे मिलते हैं. यही कारण है कि अनिल विज मतदाताओं में काफी लोकप्रिय हैं.

विज अपने राजनीतिक विरोधियों पर अपनी तीखी टिप्पणियों के कारण हमेशा खबरों में बने रहते हैं अब तक कांग्रेस को लेकर जितनी भी विवादित टिप्पणियां की गई हैं उनमें से ज्यादातर अनिल विज ने ही की है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें