scorecardresearch
 

गुजरात चुनाव: राहुल बोले- BJP राज में किसानों को सिर्फ रात में और नैनो को 24 घंटे बिजली

राहुल गांधी ने कहा- मोदी जी से बड़ा कारोबारी जमीन मांगे, तेल मांगे तो तुरंत दे देते हैं, लेकिन पाटीदारों, आदिवासियों पर लाठी बरसाते हैं.

राहुल गांधी राहुल गांधी

गुजरात विधानसभा चुनाव को लेकर राहुल गांधी ने अपने नवसृजन यात्रा जारी रखी है. बोताद में बोलते हुए राहुल गांधी ने बीजेपी अध्‍यक्ष अमित शाह के बेटे जय शाह मामले पर हमला बोला. साथ ही राहुल गांधी ने कहा कि बीजेपी ने संसद इसलिए नहीं चलने दी, क्‍योंकि वह राफेल डील पर जवाब नहीं देना चाहते थे.

रैली में राहुल गांधी ने नोटबंदी, जय शाह मामले, राफेल डील पर मोदी सरकार पर तीखा हमला बोला. यही नहीं उन्‍होंने टाटा नैनो को जमीन देने के लिए भी मोदी सरकार की आलोचना की. राहुल गांधी ने कहा कि पीएम मोदी से बड़ा कारोबारी जमीन मांगे, तेल मांगे तो तुरंत दे देते हैं, लेकिन पाटीदारों, आदिवासियों पर लाठी बरसाते हैं.

राहुल गांधी ने कहा कि जितना पैसा हमने मनरेगा में डाला उतना पैसा मोदी ने एक कंपनी को टाटा को दिया. राहुल गांधी ने कहा कि नैनो फैक्‍टरी को 24 घंटे बिजली, गरीब लोगों और किसानों को बस रात में बिजली मिलती है.

10 दिन में कर्ज माफ करेंगे

राहुल गांधी ने कहा कि नोटबंदी में कोई बड़ा कारोबारी लाइन में नहीं लगा, पीएम मोदी ने सारे काले कारोबारियों के काले धन को बैंक में जमा करवाकर सफेद किया. राहुल गांधी ने कहा कि 1 लाख 20 करोड़ का कर्ज मोदी ने पांच बिजनेसमैनों का माफ किया, लेकिन किसान का कर्ज माफ नहीं करते हैं. हम 10 दिन में कर्ज माफ करेंगे.

उठाया राफेल का मुद्दा

राहुल गांधी ने कहा कि मोदी ने गब्‍बर टैक्‍स लगाया. राहुल गांधी ने कहा कि पीएम मोदी के नाक के सामने शाह के बेटे भ्रष्‍टाचार करते हैं और पीएम चुप रहते हैं. महज 50  हजार रुपए को 80 हजार करोड़ में अमित शाह के बेटे जय शाह ने बदल दिया, फिर कंपनी बंद कर दी और पीएम मोदी चुप हैं. राफेल डील पर सवाल उठाते हुए राहुल गांधी ने कहा कि राफेल डील किसी और को मिलने वाली थी, लेकिल मोदी फ्रांस जाते हैं और डील रिलायंस को मिल जाती है. राहुल ने तीन सवाल भी पूछे कि क्‍या नई डील में विमान की कीमत पुराने डील से ज्‍यादा है या नहीं? कैबिनेट ऑफ सेक्‍योरिटी डील से इस डील के बारे में सुझाव लिया गया या नहीं? कैसे आखिरी समय में डील रिलायंस के पास चली गई? राहुल ने कहा पीएम मोदी इसलिए संसद सत्र नहीं बुला रहे हैं, क्‍योंकि सत्र में सब साफ हो जाएगा.

किसानों का मुद्दा

किसानों की बेहाली का मुद्दा भी राहुल ने उठाया.  राहुल ने मूंगफली, कपास और अन्य किसानों के दर्द का जिक्र करते हुए कहा, मोदी खुद तो प्रधानमंत्री बन गए पर अभी तक उन्होंने न्यूनतम समर्थन मूल्य नहीं दिया.  राहुल ने कहा, ‘मूंगफली का क्या दाम मिलता है, कांग्रेस पार्टी 1000 रुपए  देती थी. अभी आपको क्या मिल रहा है 500  रुपए. मोदी जी ने वादा किया था 1500 रुपए का. यही कपास का हाल है. यहां आकर मोदी जी ने कहा था कि मुझे आप देश का प्रधानमंत्री बनाओ, मैं आपको कपास का 2000 रुपए  दूंगा. पर ऐसा कुछ नहीं हुआ, मोदी जी अपने भाषण में यह क्यों नहीं कहते हैं.

राहुल का गुरुवार को गुजरात में अमरेली, बोटाद और भावनगर जिलों में कार्यक्रम है. ये क्षेत्र पाटीदारों की बहुलता वाला माना जाता है. पाटीदारों को गुजरात की सियासत में किंगमेकर माना जाता रहा है. बीते 22 साल से बीजेपी को इस समुदाय का समर्थन मिलता रहा है. मगर इस बार हार्दिक पटेल फैक्टर बीजेपी के खिलाफ पाटीदारों में अलख जगा रहा है. कांग्रेस इस स्थिति को अपने हक में भुनाना चाहती है. लेकिन ये सब इस पर निर्भर करता है कि पाटीदार समुदाय हार्दिक पटेल की बात को मतदान के वक्त कितनी अहमियत देते हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें