scorecardresearch
 

गुजरात‌‌ में बेरोजगारी के आंकड़ों पर फंस गए राहुल, वायरल हुआ वीडियो

वीडियो में बताया गया है, 'राहुल गांधी अपनी लगभग हर रैली में कह रहे हैं कि गुजरात सरकार ने टाटा मोटर्स को 33 हजार करोड़ का लोन दिया. जबकि ये पूरे तरीके से काल्पनिक है. इसका कोई कागजी प्रमाण नहीं है.

X
कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी गुजरात में चुनाव प्रचार के दौरान अलग-अलग मुद्दों पर राज्य और केंद्र की बीजेपी सरकार को घेर रहे हैं. खासकर युवाओं को रोजगार के मसले पर राहुल गांधी हर मंच से मोदी सरकार से सवाल करते नजर आते हैं. वहीं गुजरात में जनसभाओं के दौरान राहुल बीजेपी सरकार पर टाटा मोटर्स को फायदा पहुंचाने के भी आरोप लगा रहे हैं.

राहुल के आरोपों पर अब बीजेपी ने सिलसिलेवार तरीके से पलटवार किया है. यहां तक कि बीजेपी ने राहुल पर गलत तथ्य पेश कर जनता को बरगलाने का आरोप लगाया है. इसके लिए पार्टी की तरफ से बाकायदा वीडियो भी जारी किए गए हैं.

'रोजगार का आंकड़ा फेक'

बीजेपी ने एक वीडियो शेयर किया है, जिसमें राहुल गांधी के 24 नवंबर के दो अलग-अलग भाषणों की तुलना की गई है. इस वीडियो में राहुल की पोरबंदर और अहमदाबाद की स्पीच के दो हिस्से सुनाए गए हैं. पहले हिस्से में पोरबंदर की जनसभा से भाषण का एक अंश लगाया गया है. इस वीडियो में राहुल कह रहे हैं कि गुजरात में 50 लाख युवा बेरोजगार क्यों खड़े हैं?

जबकि वीडियो का दूसरा हिस्सा राहुल गांधी की अहमदाबाद स्पीच से बताया गया है. जिस पर 24 नवंबर रात बजे का वक्त लिखा  है. जबकि पहले वीडियो पर सुबह 11.15 का वक्त लिखा गया है. अहमदाबाद वाले वीडियो में राहुल कह रहे हैं, 'गुजरात में 30 लाख युवा बेरोजगार खड़े हैं.'

बीजेपी के आईटी सेल के इंचार्ज अमित मालवीय ने इस वीडियो को शेयर करते हुए लिखा है, 'राहुल गांधी गुजरात में बेरोजगारी का गलत आंकड़ा देते हुए पकड़े गए. उन्होंने कुछ ही घंटों में सूबे में बेरोजगारी का आंकड़ा 20 लाख घटा दिया. वो कई मुद्दों पर झूठ बोल रहे हैं.'

बता दें कि राहुल गुजरात के दो दिवसीय दौरे पर हैं. 24 नवंबर (शुक्रवार) को यात्रा के पहले दिन राहुल ने पोरबंदर और अहमदाबाद में जनसभाएं कीं.

टाटा मोटर्स को मदद पर भी सफाई

इसके अलावा गुजरात बीजेपी ने टाटा मोटर्स को मदद के राहुल गांधी के आरोप पर जवाब देते हुए एक वीडियो ट्वीट किया है. वीडियो में बताया गया है, 'राहुल गांधी अपनी लगभग हर रैली में कह रहे हैं कि गुजरात सरकार ने टाटा मोटर्स को 33 हजार करोड़ का लोन दिया. जबकि ये पूरे तरीके से काल्पनिक है. इसका कोई कागजी प्रमाण नहीं है. एमबी शाह कमीशन की रिपोर्ट इसका सबूत है.'

वहीं वीडियो में ये भी दावा किया गया है कि टाटा मोटर्स को किसानों की जमीन नहीं दी गई थी, बल्कि सरकार ने अपनी भूमि उस प्लांट के लिए दी थी. वीडियो में ये भी बताया गया कि टाटा नैनो के प्लांट के लिए एग्रीकल्चर फार्म की जमीन दी गई थी, जो सरकार की थी. ये भी दावा किया गया कि टाटा मोटर्स को करीब दोगुने रेट में ये जमीन दी गई थी.

मत्स्य मंत्रालय पर भी ली चुटकी

बीजेपी के आईटी सेल इंचार्ज ने एक और मसले पर राहुल गांधी को घेरा है. अमित मालवीय ने गुजरात में मत्स्य मंत्रालय गठन करने के राहुल गांधी के वादे पर कहा, 'राहुल गांधी गुजरात में मत्स्य मंत्रालय बनाएंगे, जो कि पहले से ही वहां है.'

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें