scorecardresearch
 

जीजाजी की नजरों में गुजरात चुनावों में 'पास' हुए राहुल गांधी

गुजरात के नतीजे आने के बाद राहुल गाधी के जीजा रॉबर्ट वाड्रा ने उनकी तारीफ की है.

राहुल गांधी और रॉबर्ट वाड्रा राहुल गांधी और रॉबर्ट वाड्रा

गुजरात में राहुल गांधी की अथक मेहनत के बावजूद कांग्रेस अपने सहयोगी दलों के साथ 80 सीटों तक ही सिमट गई, इसके बावजूद राहुल गांधी को हर तरफ से तारीफ मिल रही है. विपक्ष के कई नेताओं के अलावा एनडीए में शामिल शिवसेना ने भी राहुल की तारीफ की. अब राहुल गाधी के जीजा रॉबर्ट वाड्रा ने भी उनकी तारीफ की है.

मंगलवार को एक फेसबुक पोस्ट में रॉबर्ट वाड्रा ने लिखा, 'राहुल गांधी और कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जो कठोर मेहनत की उस पर गर्व है. हासिल सीटों की संख्या मायने रखती है.'  वाड्रा ने एक अन्य पोस्ट के द्वारा यह भी बताने की कोश‍िश की कि 11 ऐसी सीटें हैं, जहां से कांग्रेस कैंडिडेट 3,000 से भी कम वोटों से हारे हैं. वाड्रा के अनुसार बोटाड में कांग्रेस कैंडिडेट को 906 वोट से, दोभाई में 2839 वोटों से, धोकला में 327 वोटों से, फतेपुरा में 2711 वोटों से, गरियाधार में 1876 वोटों से, गोधरा में 236 वोटों से, हिम्मत नगर में 1712 वोटों से, खंभात में 2318 वोटों से, मतार में 2406 वोटों से, पोरबंदर में 1855 वोटों से और प्रांतिज में 2551 वोटों से हार मिली है.

गौरतलब है कि भारतीय जनता पार्टी ने गुजरात में एक बार फिर बहुमत हासिल किया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी अध्यक्ष अमित शाह की गृह राज्य में बीजेपी अपनी सत्ता विरोधी लहर के बीच भी सरकार बचाने में कामयाब रही. चुनाव से पहले कहा जा रहा था कि जीएसटी, नोटबंदी, आरक्षण को लेकर गुजरात में लोग सरकार से काफी नाराज़ हैं. नतीजों में नाराजगी तो दिखी पर इतनी नहीं कि सरकार ना बन सके.

लेकिन श‍िवसेना ने बीजेपी की इस जीत को कमजोर बताते हुए कांग्रेस की तारीफ की है. तृणमूल कांग्रेस की नेता ममता बनर्जी ने कहा है कि गुजरात में बीजेपी बस किसी तरह अपना चेहरा बचा पाई है, तो शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना के द्वारा राहुल के लंबी छलांग लगाने की बात कही है.

गौरतलब है कि गुजरात के 182 विधानसभा सीटों में चुनाव के लिए इस बार राहुल गांधी ने नवसर्जन यात्रा 2017 के तहत जबरदस्त महाअभियान में हिस्सा लिया. नवसर्जन यात्रा 2017 के तहत राहुल गांधी राज्य की 17  जिले  की 135 विधानसभा क्षेत्रों में सीधे पहुंचे. जबकि 42 विधानसभाओं को उन्होंने अप्रत्यक्ष रूप से कवर किया. यात्रा के दौरान उन्होंने कुल 177 विधानसभा सीटों को कवर किया. करीब तीन हफ़्तों के प्रचार में उनकी मौजूदगी का साफ़ असर हर ओर नजर आया. गुजरात विधानसभा चुनाव के लिए राहुल गांधी ने दोनों चरणों में कुल मिलाकर गुजरात 21 दिन और 15 रातें गुजारे. इस दौरान उन्होंने अलग-अलग तरह के कुल 300 कार्यक्रमों में हिस्सा लिया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें