scorecardresearch
 

नरकटिया विधानसभाः JDU और RJD के बीच रहेगी जंग, दोनों को एक-एक बार मिली जीत

नरकटिया विधानसभा सीट पर 2015 के विधानसभा चुनाव में राष्ट्रीय जनता दल के शमीम अहमद ने जीत हासिल की थी. उन्होंने राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के संत सिंह कुशवाहा को 19,982 मतों के अंतर से हराया था. शमीम अहमद को 46.0% वोट मिले.

नरकटिया सीट पर पहली जीत जनता दल यूनाइटेड के नाम (सांकेतिक तस्वीर-पीटीआई) नरकटिया सीट पर पहली जीत जनता दल यूनाइटेड के नाम (सांकेतिक तस्वीर-पीटीआई)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 2008 में परिसीमन के बाद अस्तित्व में आई सीट
  • नरकटिया सीट पर अब तक सिर्फ 2 बार हुए चुनाव
  • जनता दल यूनाइटेड को 2010 के चुनाव में मिली जीत

नरकटिया विधानसभा सीट की बिहार विधानसभा में सीट क्रम संख्या 12 है. यह विधानसभा क्षेत्र पूर्वी चंपारण जिले में पड़ता है और यह पश्चिम चंपारण (लोकसभा) निर्वाचन क्षेत्र का एक हिस्सा भी है. 2008 में परिसीमन आयोग की सिफारिश के बाद नरकटिया विधानसभा सीट अस्तित्व में आई और बनजरिया, छौउरदानो (नरकटिया) और बनकटवा सामुदायिक विकास ब्लॉक को शामिल कर नई विधानसभा सीट बनाई गई.

नरकटिया विधानसभा सीट का इतिहास ज्यादा पुराना नहीं है. 2008 में परिसीमन आयोग की सिफारिश के बाद यह सीट अस्तित्व में आई और इस सीट पर अब तक 2 बार हुए विधानसभा चुनाव में जनता दल यूनाइटेड और राष्ट्रीय जनता दल को बारी-बारी से जीत मिली है. 2010 के चुनाव में जनता दल यूनाइटेड के श्याम बिहारी प्रसाद ने लोक जनशक्ति पार्टी के यास्मीन सबीर अली को हराया था.

2015 में हुए विधानसभा चुनाव में नरकटिया विधानसभा सीट की बात की जाए तो इस सीट पर  कुल 2,56,325 मतदाता थे जिसमें 1,37,996 पुरुष और 1,18,323 महिला मतदाता शामिल थे. 2,56,325 में से 1,63,447 मतदाताओं ने वोट डाले, जिसमें 1,54,509 वोट वैध माने गए. इस सीट पर 63.8% मतदान हुआ था. जबकि नोटा के पक्ष में 8,938 लोगों ने वोट किया था.

2015 में आरजेडी को जीत मिली

नरकटिया विधानसभा सीट पर 2015 के विधानसभा चुनाव में राष्ट्रीय जनता दल के शमीम अहमद ने जीत हासिल की थी. उन्होंने राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के संत सिंह कुशवाहा को 19,982 मतों के अंतर से हराया था. शमीम अहमद को 46.0% वोट मिले जबकि संत सिंह कुशवाहा को 33.7% वोट हासिल हुए. इस सीट पर 12 उम्मीदवार मैदान में थे. इनमें से 5 उम्मीवार निर्दलीय थे.

पिछले चुनाव में विधायक शमीम अहमद की शिक्षा के बारे में बात करें तो वह ग्रेजुएट हैं और 2015 में दाखिल हलफनामे के अनुसार उन पर एक भी आपराधिक केस दर्ज नहीं है. उनके पास 3,93,97,334 रुपये की संपत्ति है, जबकि उन पर 48,94,229 रुपये की लाइबिलिटीज है.

पिछले चुनाव में जनता दल यूनाइटेड, राष्ट्रीय जनता दल और कांग्रेस महागठबंधन के रूप में चुनाव लड़ रहे थे और यह सीट राष्ट्रीय जनता दल को दी गई थी जिसमें उसे जीत मिली. इस बार यह गठबंधन साथ नहीं है, ऐसे में इस बार चुनाव कांटे का रहेगा. इस बार जनता दल यूनाइटेड और बीजेपी साथ चुनाव लड़ रहे हैं.


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें