scorecardresearch
 

15 साल की नौकरी, फिर बने ट्रैवल ब्लॉगर, 10 लाख लोगों ने किया चैनल सब्सक्राइब

जर्नलिज्म से शुरू किया था इस शख्स ने अपना करियर, फिर 15 साल बाद नौकरी छोड़कर बने फुल टाइम यूट्यूबर. पढ़ें- कौन हैं ये शख्स.

 वरुण वागीश  (फेसबुक) वरुण वागीश (फेसबुक)

भारतीय ट्रैवल ब्लॉगर वरुण वागीश 1 मिलियन (दस लाख) सब्सक्राइबर्स का आंकड़ा पार कर पहले भारतीय ट्रैवल यूट्यूबर बन गए हैं. यूट्यूब पर उनके लोकप्रिय चैनल 'माउंटेन ट्रेकर' ने फरवरी में दस लाख लोगों ने सब्सक्राइब किया.

13 मार्च को यूट्यूब ने उन्हें 'गोल्डन प्ले बटन' भेजकर इसकी आधिकारिक तौर पर इस बात की पुष्टि कर दी है. अब तक भारत में एक मिलियन सब्सक्राइबर्स का आंकड़ा छूने वाले यूट्यूब चैनल न्यूज़, कॉमिडी, फैशन और लाइफस्टाइल से संबंधित थे, लेकिन 'माउंटेन ट्रेकर' हिन्दी में बना पहला ऐसा चैनल है जो पूरी तरह से पर्यटन को समर्पित है. बता दें, इस चैनल की शुरुआत 2017 में हुई थी. करीब तीन साल में 10 लाख का आंकड़ा पार कर लिया है.

क्या है चैनल की खासयित

चैनल को मिले दर्शकों के फीडबैक के मुताबिक इसकी वीडियो सिरीज परिवार के साथ बैठकर देखी जा सकती हैं. कम बजट में देश-विदेश की यात्रा कैसी की जा सकती है, यह इस चैनल पर विशेष तौर पर बताया जाता है. चैनल के होस्ट वरुण वागीश बताते हैं कि इस चैनल को शुरू करने की सबसे बड़ी वजह थी अपने देश के लोगों को उनकी भाषा में बताना कि घूमने के लिए बहुत ज्यादा पैसा खर्च करने के जरूरत नहीं है.

3000 रुपये में की थी मलेशिया की यात्रा

चैनल की सबसे लोकप्रिय ट्रैवल सिरीज में थाईलैंड और मलेशिया सिरीज हैं. वरुण ने थाईलैंड की यात्रा महज 6000 रुपये और मलेशिया की महज 3000 रुपये में की थी. चैनल के एक शुरुआती वीडियो में वरुण ने बताया है कि कैसे उन्होंने 10 हजार रुपये से भी कम बजट में 15 दिन तक यूरोप में तीन देशों की सैर की थी.

इतने देशों का किया है सफर

वरुण अब तक रूस, अमेरिका, कैनडा, थाईलैंड, मलेशिया, इंडोनेशिया, ईजिप्ट, मॉरीशस, तुर्की, जॉर्जिया, इटली, चेक रिपब्लिक, ऑस्ट्रिया, स्लोवाकिया, क़ज़ाकस्तान, किर्गिज्स्तान, दक्षिण कोरिया समेत कई देशों के लिए ट्रैवल सिरीज़ बना चुके हैं.

अपनी विदेश यात्राओं से पहले वरुण अपने देश के लगभग सभी राज्यों की यात्रा कर चुके हैं। देश में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए भारत सरकार के पर्यटन मंत्रालय की ओर से उन्हें राष्ट्रीय पुरस्कार प्राप्त हो चुका है. अपने प्रभावशाली कॉन्टेंट की वजह से उन्हें टेडएक्स (TEDx) जैसे मंचों पर भी आमंत्रित किया जा चुका है.

यहां से की है पढ़ाई

वरुण वागीश ने आईआईएमसी, नई दिल्ली से पढ़ाई करने के बाद जर्नलिज्म से अपने करियर की शुरुआत की थी. उन्होंने मास कम्युनिकेशन में एमफिल और पीएचडी की. जिसके बाद एक पत्रकारिता संस्थान में पढ़ाया.

यूपीएससी से रिकमेंड होने के बाद सरकार में उनका नया करियर शुरू हुआ. कई सरकारी संस्थानों में कार्यरत रहे, जिसमें दिल्ली के उप राज्यपाल समेत दिल्ली व केन्द्र सरकार के मंत्रियों के सूचना अधिकारी रहे. 15 साल नौकरी करने के बाद फिलहाल वरुण फुल टाइम ट्रैवल यूट्यूबर बन चुके हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें