scorecardresearch
 

भारत में सबसे कम उम्र की पायलट हैं आएशा, महज 16 साल में पाया हवाई लाइसेंस...

यह कहानी है अदम्य साहस की, यह कहानी है हौसले के उड़ान की, यह कहानी है जिजीविषा और खुद को साबित करने की. यह कहानी है आएशा अजीज की जिसने महज 16 साल की उम्र में प्लेन उड़ाने का लाइसेंस हासिल किया था.

Ayesha Aziz Ayesha Aziz

जिस उम्र में भारत के अधिकांश बच्चे इस बात को तय नहीं कर पाते कि वे साइंस लेंगे, कॉमर्स लेंगे या फिर आर्ट्स. ठीक उसी उम्र में आयशा अजीज हवाई उड़ान भरने का लाइसेंस हासिल कर चुकी थीं. आज आएशा की उम्र 20 साल है और भारत में सबसे कम उम्र की पायलट होने का रिकॉर्ड उनके नाम है.

बचपन से ही था सपना और सुनीता विलियम्स बनीं प्रेरणा...
उनके माता-पिता कश्मीर के रहने वाले हैं और कश्मीर जाने के क्रम में वह हर साल दो या तीन बार हवाई यात्राएं किया करती थीं. उन्हें हवाई यात्राएं इस कदर रोमांचित करती थीं कि वो घंटों आसमान में ताकती रहतीं. 
वे इस बीच नासा भी आई-गईं और जॉन मैक्ब्राइड नामक एविएटर से मिलीं. हालांकि साल 2013-2014 में भारत आईं सुनीता विलियम्स को वो हमेशा खास मानती हैं. वहां उन्होंने सुनीता के साथ नासा में बिताए गए अनुभवों को साझा किया.

स्कूल में पढ़ाई के दौरान ही हासिल किया लाइसेंस...
आएशा ने दसवीं की परीक्षा पूरी करते ही फ्लाइंग स्कूल ज्वाइन कर लिया था और महज 16 साल की उम्र में उन्हें स्टूडेंट लाइसेंस मिल गया था. यह साल 2013 की बात है और किन्हीं आर्थिक दिक्कतों से उन्हें लाइसेंस लेने में देर हुई.

आज आएशा सिंगल इंजन Cessna 152 और Cessna 172 उड़ाती हैं...
यहां हम आपको विशेष तौर पर बताते चलें कि आएशा न सिर्फ एक पायलट हैं बल्कि वह टीवी पर आने वाले कुछ विज्ञापनों के अलावा कई बड़ी मैगजीन्स के फोटोशूट का भी हिस्सा रह चुकी हैं. उन्हें आज फर्राटे से हवाई उड़ान भरते देखा जा सकता है.

अब तक तो आप समझ ही गए होंगे कि हम इस स्टोरी पर इतना जोर क्यों दे रहे हैं. दरअसल, इन सारी स्टोरीज से हम समाज को यह संदेश देना चाहते हैं कि लड़कियां सिर्फ गोल रोटियां और बिरयानी पकाने के लिए नहीं बनीं बल्कि उचित मौके मिलने पर वह हवा में उड़ कर अपनी चमक हर ओर बिखेर सकती हैं...

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×