scorecardresearch
 

जानिये कौन थे भारत का आखिरी अंग्रेज अफसर

हिन्‍दुस्‍तान का आखिरी अंग्रेज अफसर, जिस पर गुलाम भारत को आजादी तक पहुंचाने का जिम्‍मा सौंपा गया.

lord louis mountbatten lord louis mountbatten

साल 1947 में 20 फरवरी को लॉर्ड लुइस माउंटबेटन को ब्रिटिश भारत का आखिरी वायसराय नियुक्‍त किया गया था.

भारत की आजादी की तारीख को अगस्‍त 1948 के बजाय 15 अगस्‍त, 1947 करवाया.

द गाजी अटैक: जिस PNS गाजी पर बनी फिल्‍म, जानिए उसके बारे में...

लुइस माउंटबेटन की खास बात यह थी कि वो बहुत ही मिलनसार थे और यही वजह थी कि उनकी भारतीय राजनीतिक दुनिया के दिग्‍गजों से अच्‍छे संबंध थे. खासतौर से जवाहर लाल नेहरू के साथ उनके बेहद मधुर संबंध थे. हालांकि, जिन्‍ना को अखंड भारत के लिए वो नहीं मना पाए.

ये मिला था मिस्र में तुतनखामुन की कब्र से...

कई राजकुमारों को भारतीय संघ से जुड़ने के लिए मना लिया.

साल 1959 में ब्रिटेन के चीफ ऑपु द डिफेंस बनें.

जानिए महात्मा गांधी की लाइफ की 8 खास बातें

साल 1979 में आयरलैंड में छुट्ट‍ियां मना रहे थे, जब IRA के आतंकियों ने उनकी हत्‍या कर दी.

लुइस माउंटबेटन का जन्‍म 25 जून 1900 को हुआ था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें