scorecardresearch
 

भूकंप के बारे में वो सब कुछ, जो आप जानना चाहते हैं

नेपाल में 81 साल बाद इतना भयानक भूकंप आया है. भूकंप की असली वजह टेक्टोनिकल प्लेटों में तेज हलचल होती है, यही नहीं उल्का प्रभाव,  ज्वालामुखी विस्फोट, माइन टेस्टिंग और न्यूक्लियर टेस्टिंग की वजह से भी भूकंप आते हैं. जानिए भूकंप से जुड़े 10 तथ्य:

Earthquake Earthquake

नेपाल में 81 साल बाद इतना भयानक भूकंप आया है. भूकंप की असली वजह टेक्टोनिकल प्लेटों में तेज हलचल होती है, यही नहीं उल्का  प्रभाव और ज्वालामुखी विस्फोट, माइन टेस्टिंग और न्यूक्लियर टेस्टिंग की वजह से भी भूकंप आते हैं. जानिए भूकंप से जुड़े 10 तथ्य:

1. धरती चार परतों से बनी है- इनर कोर, आउटर कोर, मेंटल और क्रस्ट. क्रस्ट और ऊपरी मेंटल को लिथोस्फेयर कहा जाता है. लिथोस्फेयर 50 किलोमीटर की मोटी परत होती है. ये परत वर्गों में बंटी है और इन्हें टेक्टोनिकल प्लेट्स कहते हैं. जब इन टेक्टोनिकल प्लेटों में हलचल तेज होती है तो भूकंप आता है. यही नहीं उल्का के प्रभाव और ज्वालामुखी विस्फोट और माइन टेस्टिंग और न्यूक्लियर टेस्टिंग की वजह से भी भूकंप आते हैं.

2. अब तक का सबसे बड़ा रिकॉर्ड किया गया भूकंप 22 मई1960 को चिली में आया था. यह 9.5 मेग्नीट्यूड तीव्रता का भूकंप था.

3.  चिली के बाद अब तक का सबसे बड़ा भूकंप 28 मार्च 1964 में यूनाइटेड स्टेट्स में रिकॉर्ड किया गया था. ये 9.2 मेग्नीट्यूड का था, इससे प्रिंस विलियम साउंड, अलास्का का क्षेत्र काफी प्रभावित हुआ था.

4. क्या आपको मालूम है कि भूकंप से पहले नहरों, नालों और तालाबों में से अजीब सी खुशबू आने लगती है. ऐसा इसलिए होता है क्योंकि पृथ्वी के नीचे की गैसें बाहर निकलने लगती हैं. यही नहीं ग्राउंड वाटर का तापमान भी भूकंप से पहले बढ़ने लगता है.

5. अलास्का सबसे ज्यादा भूकंप वाला राज्य और दुनिया का सबसे सिस्मीकली एक्टिव क्षेत्र है. इस क्षेत्र में करीब 7.0 मेग्नीड्यूड के भूकंप हर साल आते हैं. यही नहीं 14 साल में एक बार करीब 8 मेग्नीटयूड और इससे ज्यादा तीव्रता के भूकंप का आना आम बात है.

6. हर साल करीब लाखों भूकंप आते हैं. लेकिन इनकी तीव्रता कम होती है. शायद आपको नहीं मालूम होगा कि नेशनल अर्थक्वेक इंफोर्मेशन सेंटर हर साल करीब 20,000 भूकंप रिकॉर्ड करता है जिसमें से 100 भूकंप ऐसे होते हैं जिनसे नुकसान होता है.

7. शायद आप नहीं जानते होंगे कि भूकंप कुछ सेकेंड या कुछ मिनट तक रहता है. लेकिन अब तक के इतिहास में सबसे ज्यादा देर तक रहने वाला भूकंप 2004 में हिंद महासागर में आया था. यह भूकंप 10 मिनट तक रहा था.

8. 1556 में शांसी चीन में आया भूकंप अब तक का सबसे भयानक भूकंप था, जिसमें 830,000 लोग मारे गए थे.

9. भूकंप से जो ऊर्जा निकलती है वो 1945 में जापान में डाले गए परमाणु बम से निकली ऊर्जा से 100 गुना ज्यादा होती है.

10. भूकंप की तीव्रता मापने वाले रिक्टर स्केल का विकास अमेरिकी वैज्ञानिक चार्ल्स रिक्टर ने 1935 में किया था. रिक्टर स्केल पर प्रत्येक अगली इकाई पिछली इकाई की तुलना में 10 गुना अधिक तीव्रता रखती है. इस स्केल पर 2.0 या 3.0 की तीव्रता का भूकंप हल्का होता है, जबकि 6.2 की तीव्रता का मतलब शक्तिशाली भूकंप होता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें