scorecardresearch
 

जर्मनी में नाजीवाद के उदय और हिटलर से जुड़े तथ्‍य और जानकारियां

नाजीवाद, जर्मन तानाशाह एडोल्फ हिटलर की विचार धारा थी. यह विचारधारा सरकार और आम जन के बीच एक नये से रिश्ते के पक्ष मे थी. इसके अनुसार सरकार की हर योजना मे पहल हो परंतु फिर वह योजना जनता-समाज की भागिदारी से चले.

नाजीवाद, जर्मन तानाशाह एडोल्फ हिटलर की विचार धारा थी. यह विचारधारा सरकार और आम जन के बीच एक नये से रिश्ते के पक्ष मे थी. इसके अनुसार सरकार की हर योजना मे पहल हो परंतु फिर वह योजना जनता-समाज की भागिदारी से चले. कट्टर जर्मन राष्ट्रवाद, देशप्रेम, विदेशी विरोधी, आर्य और जर्मन हित इस विचार धारा के मूल अंग हैं. नात्सी यहुदियों से नफरत करते थे और यूरोप और जर्मनी मे हर बुराई के लिये उन्हें ही दोषी मानते थे. नात्सीयों ने केंद्र मे अपनी सरकार बनते ही जर्मनी मे हिटलर की तानाशाही स्थापित की और फिर यहुदियों के जर्मनी मे दिन भर गए. द्वितिय विश्व युद्ध मे यहुदियों के कत्ले-आम के पीछे भी नाजियों का ही हाथ था.

(1) नाजी का उत्‍थान हिटलर के नेतृत्‍व में हुआ.

(2) हिटलर का जन्‍म 20 अप्रैल 1889 ई. को बॉन में हुआ था.

(3) हिटलर ने नेशनल सोशलिस्‍ट पार्टी या नाजी दल की स्‍थापना 1920 ई. में की.

(4) जर्मनी वर्क्‍स पार्टी का संस्‍थापक हिटलर था.

(5) हिटलर 1933 ई. में जर्मनी का प्रधानमंत्री बना.

(6) हिटलर जिस समय प्रधानमंत्री बना उस समय जर्मनी का राष्ट्रपति हिंडेनवर्ग था.

(7) एक राष्ट्र एक नेता का नारा हिटलर ने दिया.

(8) हिटलर की आत्‍मकथा का नाम माई केम्‍फ (मेरा संघर्ष) है.

(9) हिटलर के समर्थक उसे फ्यूरर कहते थे.

(10) हिटलर के अनुयायी बांह पर स्‍वास्तिक का चिन्‍ह लगाते थे.

(11) नाजी दल के प्रचार का जिम्‍मा गोयबल्‍स संभालता था.

(12) हिटलर ने गेस्‍टापो नाम के गुप्‍तचर पुलिस विभाग का गठन किया.

(13) एडोल्‍फ हिटलर के लिए शामी विरोधी नीति का मतलब यहुदी विरोधी नीति था.

(14) हिटलर की विस्‍तारवादी नीति का पहला शिकार ऑस्ट्रिया हुआ.

(15) हिटलर की मृत्‍यु 30 अप्रैल 1945 ई. हुई थी, उसने आत्‍महत्‍या कर ली थी.

(16) जर्मनी सम्राट कैंसर विलियम द्वितीय ने 10 नवबंर 1918 ई. को अपने पद से इस्‍तीफा दे दिया.

(17) हिटलर ने 16 मार्च 1935 ई. में जर्मनी में पुन:शास्‍त्रीकरण की घोषणा की.

(18) हिटलर ने 1 सिंतबर 1939 ई. को पोलैंड पर आक्रमण किया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें