scorecardresearch
 

Navy Day 2021: जानिए 4 दिसंबर को क्यों मनाया जाता है नेवी डे, बेहद खास है इतिहास

India Navy Day 2021: 1971 में भारत-पाकिस्तान के बीच हुए युद्ध में भारतीय नौसेना ने कराची पर हमला किया. इस ऑपरेशन का नाम ‘ऑपरेशन ट्राइडेंट’ था. यह ऑपरेशन 4 दिसंबर को ही शुरू हुआ था इसलिए भारतीय नौसेना इस मिशन की कामयाबी को नेवी डे के रूप में मनाती है.

X
Navy Day 2021 images: Navy Day 2021 images:
स्टोरी हाइलाइट्स
  • Navy Day 04 दिसंबर को मनाया जाता है
  • 4 दिसंबर को शुरू हुआ था ऑपरेशन ट्राइडेंट

Navy Day 2021: देश में आज (शनिवार) नौसेना दिवस (Navy Day) है. हर साल 04 दिसंबर को भारतीय नौसेना नेवी डे मनाती है. इस दिन कई कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं. आइए जानते हैं नेवी डे के इतिहास के बारे में.

इसलिए मनाया जाता है नेवी डे
1971 में भारत-पाकिस्तान के बीच हुए युद्ध में भारतीय नौसेना ने कराची पर हमला किया था. इस ऑपरेशन का नाम ‘ऑपरेशन ट्राइडेंट’ था. यह ऑपरेशन 04 दिसंबर को ही शुरू हुआ था इसलिए भारतीय नौसेना इस मिशन की कामयाबी को नेवी डे (Navy Day) के रूप में मनाती है.

दरअसल, 3 दिसंबर को 1971 की जंग की शुरुआत हुई थी, जब पाकिस्तान ने भारतीय हवाई क्षेत्र और सीमावर्ती क्षेत्र में अटैक किया था. पाकिस्तानी को जवाब देने के लिए नौसेना की ओर से यह ऑपरेशन चलाया गया. यह अभियान पाकिस्‍तानी नौसेना के मुख्यालय को निशाने पर लेकर शुरू किया गया, जो कराची में था.

भारती की ओर से किए गए इस हमले में 3 विद्युत क्‍लास मिसाइल बोट, 2 एंटी-सबमरीन और एक टैंकर शामिल था.  भारत ने पाकिस्तान पर रात के समय हमला करने की योजना बनाई, क्योंकि पाकिस्तान के पास ऐसे विमान नहीं थे, जो रात के समय बमबारी कर सकें. इस युद्ध में पाकिस्तान के 5 नौसेनिक मारे गए और 700 से अधिक घायल हो गये थे. इसी जीत के जश्न की वजह से 4 दिसंबर को Navy Day के रूप में मनाया जाता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें