scorecardresearch
 

55 साल बिना शौचालय के दौड़ी थी भारतीय रेल, फिर ऐसे हुई शुरुआत

भारतीय रेल जैसी आज है, वैसी पहले नहीं थी. इसमें कई प्रकार के बदलाव आए हैं. जानिए कैसे भारतीय रेल में टॉयलेट की शुरुआत हुई थी.

भारतीय रेलवे भारतीय रेलवे

भारत में रेलवे सिर्फ एक सेवा नहीं, बल्कि एक बहुत ही बड़ी व्यवस्था है, जिसके लिए अलग से मंत्रालय भी है. ये भारत का सबसे बड़ा रेल नेटवर्क है. रेलव में भर्तियां निकलती रहती है जिसके लिए रेलवे के बारे में मालूम होना जरूरी है. ऐसे में हम आपको भारतीय रेलवे से जुड़ी ये वो दिलचस्प बातें बता रहे हैं, जिन्हें नहीं जानते होंगे आप..

- अमेरिका, चीन और रूस के बाद भारतीय रेलवे विश्व का चौथा सबसे बड़ा रेल नेटवर्क है.

- लगभग 2.5 करोड़ यात्री रोजाना भारतीय ट्रेनों से सफर करते हैं जो ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड और तस्मानिया की कुल आबादी के बराबर है.

देश-दुनिया के किस हिस्से में कितना है कोरोना का कहर? यहां क्लिक कर देखें

- आंकड़ों के मुताबिक भारत में अब तक 1.15 लाख किलोमीटर लंबी रेल पटरियां बिछाई जा चुकी हैं.

- भारतीय ट्रेनें रोजाना 13.5 लाख किलोमीटर लंबा सफर तय करती हैं. पृथ्वी से चंद्रमा की दूरी का 3.5 गुना है यह सफर.

- भारतीय रेलवे दुनिया में 9वां सबसे बड़ा रोजगार प्रदाता है.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

- भारतीय रेलवे 55 साल बिना शौचालय के दौड़ीं थी. शौचालयों की शुरुआत एक पत्र के जरिए की गई. इस पत्र को 1909 में एक यात्री ने लिखा था.  1909 में ओखिल चंद्र सेन नामक एक यात्री को पैसेंजर ट्रेन से यात्रा के दौरान शौचालय न होने की वजह से बड़ी मुश्किलों का सामना करना पड़ा था.

- मेतुपलयम ऊटी नीलगिरी पैसेंजर ट्रेन भारत में चलने वाली सबसे धीमी ट्रेन है. यह लगभग 16 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलती है.

- 150 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ती है सबसे तेज ट्रेन भोपाल शताब्दी एक्सप्रेस, दिल्ली से आगरा के बीच 160 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से चलने वाली सेमी-हाईस्पीड ट्रेन का ट्रायल भी पूरा हो चुका है.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें

- सबसे लंबे (श्रीवेंकटनरसिम्हाराजुवरीपेता-तमिलनाडु) और सबसे छोटे (ईब-ओडिशा) नाम वाले रेलवे स्टेशन भारत में हैं.

- नवापुर रेलवे स्टेशन दो राज्यों में बसा है, इसका आधा हिस्सा महाराष्ट्र और आधा गुजरात में पड़ता है.

- महाराष्ट्र के अहमदनगर में एक ही स्थान पर आमने-सामने हैं श्रीरामपुर और बेलापुर रेलवे स्टेशन.

- 24 मार्च 1994 को पहली बार टीवी पर रेल बजट का लाइव प्रसारण किया गया था.

- हर पांच में से एक इंटरनेट उपभोक्ता औसतन दिन में एक बार भारतीय रेलवे की वेबसाइट का  इस्तेमाल करता है.

- चेनाब नदी के ऊपर दुनिया का सबसे ऊंचा रेलवे पुल है. पेरिस का एफिल टावर भी इसके सामने छोटा है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें