scorecardresearch
 

पीसीआर: मी-टू मुहिम ने ली असिस्टेंट वीपी की जान

मी-टू की जिस मुहिम ने अचानक पूरी दुनिया में भूचाल ला दिया, नोएडा की जेनपैक्ट आईटी कंपनी के असिस्टेंट वाइस प्रेसिडेंट  स्वरुप के लिए वही मी-टू मुहिम मौत का कैंपेन साबित हुई. कंपनी की दो सहकर्मियों के यौन-उत्पीड़न के इल्ज़ामों से घिरे इस वाइस प्रेसिडेंट ने सिर्फ़ इसी वजह से अपने ही घर में फंदे से लटक कर जान दे दी. हालांकि खुदकुशी करने से पहले उन्होंने अपनी पत्नी के नाम एक सुइसाइड नोट भी लिखा कि कल को अगर मैं बेगुनाह भी साबित हुआ, तो भी मेरे मान-सम्मान को जो चोट पहुंची, उसकी भरपाई नहीं हो सकेगी.

Me-too campaign, which shook the world with many dark revelations, has become the death campaign for the assistant vice president of IT company, Genpact. VP Swaroop hanged himself in his house, after two female colleagues accused him of sexual harassment. Though, before committing suicide, Swaroop wrote a suicide note to his wife, in which he had written that I am going as everyone will look at me with that eye even if I come clean.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें