scorecardresearch
 

जानिए, 'देवरिया कांड' का पूरा सच, रात में लड़कियों को ले जाते थे बाहर

उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले में जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक ने एक शेल्टर होम में छापा मार कर 24 लड़कियों को मुक्त कराया है. बताया जा रहा है कि यह शेल्टर होम अवैध रूप से संचालित किया जा रहा था. वहां रहने वाली लड़कियों का यौन शोषण होता था. यूपी के सीएम ने देवरिया के डीएम सुजीत कुमार समेत कई अधिकारियों पर इस मामले की गाज गिरी है.देवरिया के डीएम और एसपी पुलिस बल के साथ रेलवे स्टेशन रोड पर स्थित मां विंध्यवासिनी नामक शेल्टर होम पर छापे की कार्रवाई की. इस दौरान वहां 24 लड़किया मौजूद पाई गई. जिन्हें वहां से रेस्क्यू किया गया. बालिका गृह में रहने वाली सभी लड़कियां अलग अलग जिलों की रहने वाली हैं. लड़कियों ने जब आपबीती सुनाई तो सबके होश उड़ गए. इस मामले में कार्रवाई करते हुए पुलिस ने बालिका गृह की संचालिका, उसके पति, बेटे और बेटी को भी गिरफ्तार कर लिया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें