scorecardresearch
 

बंगाल में फिर TMC कार्यकर्ता की हत्या, बीजेपी पर लगाया आरोप

पिछले 3 दिनों के भीतर पश्चिम बंगाल में तृणमूल कार्यकर्ता की यह दूसरी हत्या है. मंगलवार को ही उत्तर 24 परगना के निमता में टीएमसी कार्यकर्ता निर्मल कुंडू की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी.

टीएमसी कार्यकर्ता की पीट-पीटकर हत्या (ANI) टीएमसी कार्यकर्ता की पीट-पीटकर हत्या (ANI)

लोकसभा चुनाव कब का खत्म हो चुका है, लेकिन पश्चिम बंगाल में राजनीतिक झड़पों और हत्याओं का दौर थम नहीं रहा है. कूचबिहार में दिनहाटा के पेटला बाजार में बुधवार शाम तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के एक कार्यकर्ता की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई. टीएमसी के मृतक कार्यकर्ता की पहचान अजीजुर रहमान के रूप में की गई है.

पिछले 3 दिनों के भीतर पश्चिम बंगाल में तृणमूल कार्यकर्ता की यह दूसरी हत्या है. मंगलवार को ही उत्तर 24 परगना के निमता में टीएमसी कार्यकर्ता निर्मल कुंडू की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी.

वहीं तृणमूल कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के कुछ कार्यकर्ताओं ने अजीजुर के घर में घुसकर उसकी हत्या की. वहीं बीजेपी ने इन आरोपों को खारिज किया है. बीजेपी का कहना है कि यह टीएमसी के बीच की आपसी लड़ाई का नतीजा है. पुलिस ने मामले की छानबीन शुरू कर दी है. हालांकि अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है.

इस घटना के बाद कूचबिहार में टीएमसी के एक नेता ने आरोप लगाया है कि बीजेपी के नेता अजहर अली ने अपने कुछ सहयोगियों के साथ मिलकर इस हत्या को अंजाम दिया है. टीएमसी के स्थानीय नेता ने कहा कि बीजेपी के सदस्य अजहर अली और कुछ अन्य लोगों ने मिलकर अजीजुर रहमान की हत्या की है.

वहीं बीजेपी ने टीएमसी के इन आरोपों को खारिज किया है. कूचबिहार से बीजेपी के सांसद नीसीथ प्रमाणिक ने कहा, 'लोगों की व्यक्तिगत वजहों से यह घटना हुई है. टीएमसी इसे राजनीतिक रंग दे रही है. मृतक के परिजनों का खुद ही कहना है कि यह आपसी विवाद की वजह से यह घटना हुई है, इसमें बीजेपी के किसी कार्यकर्ता का हाथ नहीं है.'

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें