scorecardresearch
 

पुलिस भर्ती परीक्षा में वायरलेस डिवाइस से नकल, 42 गिरफ्तार

सीआईडी के मुताबिक कुछ परीक्षार्थियों ने डिवाइस जूतों में छिपाए हुए थे. यह मोबाइल फोन से वायरलेस के जरिए जुड़े हुए थे. उनके मोबाइल फोन बाहर से संचलित किए जा रहे थे और उन्हें जरूरी जानकारियां भेजी जा रही थीं.

पुलिस पकड़े गए सभी आरोपियों से पूछताछ कर रही है पुलिस पकड़े गए सभी आरोपियों से पूछताछ कर रही है

पश्चिम बंगाल सीआईडी ने राज्य पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा में आधुनिक उपकरणों के माध्यम से नकल करने वाले 42 लोगों को गिरफ्तार कर लिया. इन सभी की गिरफ्तारी अलग-अलग केंद्रों से की गई. पुलिस ने कुछ आरोपियों के पास से इंप्रोवाइज्ड वायरलेस डिवाइस का बरामद किए हैं, जिसका इस्तेमाल वो नकल के लिए कर रहे थे.

सीआईडी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने सोमवार को इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि आपराधिक जांच विभाग (सीआईडी) को खुफिया जानकारी मिली थी कि रविवार को आयोजित भर्ती परीक्षा में कुछ परीक्षार्थी नकल करने के लिए इंप्रोवाइजड वायरलेस उपकरणों का इस्तेमाल कर रहे हैं.

विभाग ने इस सूचना को गंभीरता से लिया और इस पर कार्रवाई करते हुए कई केंद्रों पर छापेमारी की. जांच के दौरान कई परीक्षार्थियों के पास से क्रेडिट कार्ड के आकार वाले उपकरण और वायरलेस हेडफोन बरामद किए गए.

पश्चिम बंगाल सीआईडी के उप महानिरीक्षक निशाद परवेज़ ने कहा "रविवार को पश्चिम बंगाल पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा के दौरान नकल करने के आरोप में 42 लोगों को गिरफ्तार किया गया है और इस संबंध में 28 मामले दर्ज किए गए हैं."

डीआईजी परवेज़ ने बताया "कुछ परीक्षार्थियों ने डिवाइस जूतों में छिपाए हुए थे. यह मोबाइल फोन से वायरलेस के जरिए जुड़े हुए थे. उनके मोबाइल फोन बाहर से संचलित किए जा रहे थे और उन्हें जरूरी जानकारियां भेजी जा रही थीं."

आईपीएस निशाद परवेज़ के मुताबिक इस मामले में नकल कराने वाला एक पूरा गैंग हो सकता है. लिहाजा इसमें संलिप्त बाकी लोगों की गिरफ्तारी के लिए सीआईडी प्रयास कर रही है. साथ ही पूरे गिरोह का पता लगाने की कोशिश की जा रही है. आरोपियों को जल्द गिरफ्तार किया जाएगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें