scorecardresearch
 

UP पुलिस से विवेक तिवारी की पत्नी की अपील, हत्यारोपियों का ना दें साथ

यूपी की राजधानी लखनऊ में 28 सितंबर को विवेक तिवारी की गोली मार कर हत्या कर दी गई थी. इनका आरोप दो पुलिसकर्मियों पर लगा है, दोनों तभी से हिरासत में हैं.

कल्पना तिवारी और विवेक तिवारी (फाइल फोटो) कल्पना तिवारी और विवेक तिवारी (फाइल फोटो)

लखनऊ में हुए विवेक तिवारी हत्याकांड में आज उनकी सहयोगी सना खान मजिस्ट्रेट के सामने अपना बयान दर्ज करवाएंगी. साथ ही उत्तर प्रदेश पुलिस के सिपाहियों ने आरोपी सिपाही के समर्थन में मुहिम चलाने का फैसला किया है. जिसका विवेक तिवारी की पत्नी कल्पना तिवारी ने विरोध किया है.

आजतक से बात करते हुए इस मुहिम पर कल्पना तिवारी का कहना है कि आरोपी को समर्थन देने से पहले सिपाहियों को दिल पर हाथ रख सोचना चाहिए कि पीड़ित कौन है. उन्होंने कहा कि ये देखें कि अन्याय किसके साथ हुआ है और बेसहारा कौन है.

गौरतलब है कि आरोपी सिपाही के समर्थन में सोशल मीडिया पर भी कैंपेन चलाया जा रहा है. कल्पना तिवारी ने कहा कि इस तरह की मुहिम को तुरंत रोकना चाहिए.

कल्पना तिवारी ने विवेक तिवारी की सहकर्मी सना खान के सुर से सुर मिलाते हुए कहा कि सना ने पुलिसवालों को वही बताया था जो उसने पहले दिन मुझे बताया. उनकी बातों में कोई अंतर नहीं था, सना भी मेरी तरह विवेक तिवारी के लिए न्याय चाहती हैं इसलिए हम दोनों की न्याय की लड़ाई को लेकर एक राय है.

बता दें कि यूपी पुलिस राज्य कर्मचारी विभाग के महासचिव अविनाश पाठक ने कहा कि 5 तारीख से पुलिसकर्मी काला बिल्ला या काली पट्टी लगाएंगे, 6 तारीख को इलाहाबाद में मीटिंग बुलाई गई है और उसके बाद आंदोलन का फैसला लिया जाएगा.उनका कहना है कि सभी सिपाही आरोपी सिपाही की बिना जांच के बर्खास्तगी और जेल भेजे जाने के खिलाफ लामबंद हो रहे हैं.

गौरतलब है कि 5 अक्टूबर को यूपी पुलिस के कई सिपाही काला दिवस मना रहे हैं. इसको लेकर सोशल मीडिया पर काफी तरह के वीडियो और पोस्टर वायरल हो रहे हैं. हालांकि, इनकी पुष्टि नहीं की गई है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें