scorecardresearch
 

रक्षक बना भक्षकः पुलिसकर्मी ने मजदूर के बेटी से किया बलात्कार

उत्तर प्रदेश के इटावा जिले में यूपी पुलिस के एक सिपाही ने खाकी वर्दी को शर्मसार कर दिया. हाइवे पर तैनात सिपाही के सिर पर हवस का भूत इस कदर चढ़ा कि उसने एक मजदूर की नाबालिग बेटी के संग बलात्कार की वारदात को अंजाम दे डाला. घटना सामने आने पर आरोपी को निलंबित कर जांच कराई जा रही है.

आरोपी सिपाही को निलंबित कर हिरासत में ले लिया गया है आरोपी सिपाही को निलंबित कर हिरासत में ले लिया गया है

उत्तर प्रदेश के इटावा जिले में यूपी पुलिस के एक सिपाही ने खाकी वर्दी को शर्मसार कर दिया. हाइवे पर तैनात सिपाही के सिर पर हवस का भूत इस कदर चढ़ा कि उसने एक मजदूर की नाबालिग बेटी के संग बलात्कार की वारदात को अंजाम दे डाला. घटना सामने आने पर आरोपी को निलंबित कर जांच कराई जा रही है.

घटना इटावा के थाना जसवंतनगर इलाके की है. जहां धनुआ पुलिस चौकी में सिपाही जितेंद्र तैनात है. उसी इलाके में एक भट्टे पर मजदूर रामसेवक (बदला हुआ नाम) काम करता है. उसकी 17 वर्षीय बेटी कल्पना (बदला हुआ नाम) शाम के वक्त शौच के लिए गई थी. तभी वहां हाइवे पर चेकिंग कर रहे सिपाही जितेंद्र सिंह ने उसे अकेला पाकर पकड़ लिया.

वर्दीधारी सिपाही जबरन उस नाबालिग लड़की को मुंह बंद करके एक सुनसान जगह पर ले गया और फिर वहां उसके साथ बलात्कार किया. इस दौरान लड़की ने उसे छोड़ देने की गुहार भी लगाई लेकिन उसका दिल नहीं पसीजा. वारदात के बाद बदहवास हालत में लड़की अपने माता-पिता के पास पहुंची और उन्हें आपबीती सुनाई.

मजदूर ने फौरन इस बात की जानकारी भट्टा मालिक को दी. फिर पीड़ित परिवार इस संबंध में शिकायत लेकर थाने पहुंचा और मुकदमा दर्ज कराया. मामले पर संज्ञान लेते हुए एसएसपी वैभव कृष्ण ने फौरन आरोपी सिपाही निलंबित कर हिरासत में लेने के आदेश दिए.

पुलिस ने पीड़िता को मेडिकल कराने के बाद परिजनों के सुपुर्द कर दिया. एसएसपी वैभव कृष्ण ने बताया कि एक सिपाही पर बलात्कार करने का आरोप लगा है. सिपाही जितेंद्र को हिरासत में लेकर निलंबन की कार्यवाही की जा रही है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें