scorecardresearch
 

UP से पकड़े गए 11 ISI एजेंट, जासूसी के लिए चला रहे थे टेलीफोन एक्सचेंज

यूपी एटीएस और डिपार्टमेंट ऑफ टेलिकम्यूनिकेशन की संयुक्त टीम ने अवैध टेलीफोन एक्सचेंज के जरिए जासूसी करने वाले एक गैंग का भंडाफोड किया है. पुलिस के मुताबिक इस नेटवर्क को पाकिस्तान से कंट्रोल किया जा रहा था. पुलिस नें इस नेटवर्क से जुडे 11 लोगों को गिरफ्तार किया है, जो आईएसआई के एजेंट हैं.

X
सुरक्षा एजेंसियों के अधिकारी पकड़े गए लोगों से पूछताछ कर रहे हैं सुरक्षा एजेंसियों के अधिकारी पकड़े गए लोगों से पूछताछ कर रहे हैं

यूपी एटीएस और डिपार्टमेंट ऑफ टेलिकम्यूनिकेशन की संयुक्त टीम ने अवैध टेलीफोन एक्सचेंज के जरिए जासूसी करने वाले एक गैंग का भंडाफोड किया है. पुलिस के मुताबिक इस नेटवर्क को पाकिस्तान से कंट्रोल किया जा रहा था. पुलिस नें इस नेटवर्क से जुडे 11 लोगों को गिरफ्तार किया है, जो आईएसआई के एजेंट हैं.

नेटवर्क के किंगपिन भी दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया गया है. जानकारी के मुताबिक पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई पहले भी इस तरह के नेटवर्क के जरिये सेना से जुडी खुफिया जानकारियां जुटा चुकी है. अवैध टेलीफोन एक्सचेंज में फोन कॉल्स को रूटर के जरिये रूट करके अलग अलग सरकारी विभागों में कॉल की जाती थी.

उन्हीं कॉल्स के जरिए सरकारी विभागों से खुफिया जानकारियां जुटाई जाती थी. इसके बारे मे मिलिट्री इंटेलीजेंस यूनिट को जब अंदेशा हुआ तो मामले की शिकायत की गई. हालांकि अभी तक इस मामले में किसी आतंकी साजिश का सबूत नहीं मिला है.

लेकिन जांच एजेंसियों और यूपी एटीएस को शक है कि इससे जुडे लोग सरकारी अधिकारियों के नेटवर्क मे घुसपैठ कर चुके थे. तो बहुत मुमकिन है कि उन्होनें बेहद महत्वपूर्ण जानकारियां हासिल कर ली हों. फिलहाल पकड़ में आए लोगों से मिलिट्री इंटेलीजेंस यूनिट, दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल और आईबी के अधिकारी भी पूछताछ कर रहे हैं.

यूपी एटीएस के डीजीपी असीम अरुण ने बताया कि लखनऊ, हरदोई और सीतापुर में छापेमारी कर एटीएस ने 24 जनवरी को पांच अवैध टेलीफोन एक्सचेंज पकड़े थे. इस संबंध में एटीएस की टीम ने दिल्ली में छापा मारकर इस गैंग के सरगना गुलशन को धर दबोचा.

डीजीपी ने बताया कि ये लोग अवैध टेलीफोन एक्सचेंज के माध्यम से सरकार का करोड़ों का चूना लगा रहे थे. इस गैंग का पर्दाफाश करने वाली टीम का नेतृत्व एएसपी राजेश साहनी और डीएसपी अनूप सिंह कर रहे थे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें