scorecardresearch
 

जानलेवा बनता जा रहा है सेल्फी का जुनून

उत्तर प्रदेश के दो शहरों में चार युवकों की जिंदगी सिर्फ सेल्फी के शौक ने खत्म कर दी. इसलिए हम आपको आगाह करना चाहते हैं कि आप सेल्फी के चक्कर में अपनी जान खतरे में न डालें.

सेल्फी की वजह से जानलेवा हादसे बढ़ रहे हैं सेल्फी की वजह से जानलेवा हादसे बढ़ रहे हैं

तेज़ रफ्तार से दौड़ती ट्रेन और उसके साथ एक शानदार सेल्फी. यह जुनून चार नौजवानों के लिए जानलेवा साबित हुआ. उत्तर प्रदेश के दो शहरों में चार युवकों की जिंदगी सिर्फ सेल्फी के शौक ने खत्म कर दी. इसलिए हम आपको आगाह करना चाहते हैं कि आप सेल्फी के चक्कर में अपनी जान खतरे में न डालें.

जानलेवा स्टंट
मशहूर अदाकार आमिर खान ने फिल्म गुलाम में ट्रेन के साथ एक स्टंट तमाम एक्टपर्ट्स की मदद से अंजाम दिया था. लेकिन रियल लाइफ में ऐसे स्टंट का जुनून जानलेवा बन जाता है. उत्तर प्रदेश के दो अलग अलग शहरों में ऐसे ही रियल लाइफ स्टंट ने चार लोगों की जान ले ली.

ये कैसा जुनून
पहला मामला मिर्ज़ापुर जिले के चुनार इलाके का है. जहां दो दोस्त ब्रह्मपुत्र मेल के साथ सेल्फ़ी लेने के चक्कर में रेलवे ट्रेक के इतने करीब पहुंच गए कि अपना संतुलन खो बैठे. और ट्रेन की चपेट में आकर जिंदगी गंवा बैठे. दोनों की उम्र करीब 20 साल थी.

रेलवे लाइन

जुनून-ए-सेल्फी, मिर्जापुर
मिर्जापुर की परसोधा रेलवे क्रासिंग के पास सेल्फ़ी लेने के चक्कर में उन दोनों दोस्तों की जान चली गई. तीसरा उनको देखने के चक्कर में 100 मीटर की दूरी पर जा कर गिर गया. ये लोग सेमरा पड़ाव के रहने वाले थे. लोगों ने इस बात की ख़बर पुलिस को दी. पुलिस ने मौके पर पहुंचकर लाश को कब्जे ले लिया. और घायल को अस्पताल पहुंचाया.

जिले के पुलिस अधीक्षक अरविंद सेन ने बताया कि सेल्फी के ऐसे ही शौक में एक शख्स ट्रेन से बाहर लटका और मौत का शिकार हो गया. हालांकि इसकी शिनाख्त नहीं हो पाई है. लेकिन परसोधा में सेल्फी के चक्कर में जान गंवाने वाले दो दोस्तों की पहचान पुलिस ने कर ली है.

जुनून-ए-सेल्फी, सहारनपुर
दूसरी घटना उत्तर प्रदेश के सहानरपुर जिले की है. जहां 10वीं में पढ़ने वाले एक छात्र ने भी सेल्फी के जुनून में अपनी जान गवा दी. वो अपने तीन दोस्तों के साथ एक रेलवे क्रासिंग पर गया था.

सहारनपुर शहर का रहने वाले कार्तिक पर भी सेल्फी का जुनून सवार था. वो भी तेज़ रफ्तार ट्रेन के साथ सेल्फी लेना चाहता था. इसी गरज से वो अपने तीन दोस्तों के साथ चुनहेटी रेलवे फाटक पहुंच गया. तभी वहां तेज रफ्तार से एक ट्रेन आई और अपने साथ ले गई कार्तिक की जिंदगी.

कार्तिक की जान गई

जान है तो जहान है
उसके साथ मौके पर मौजूद दोस्त उस खौफनाक मंजर को भुला नहीं पा रहे हैं. यूपी के दो शहरों में चार लड़कों की मौत इस बात की नसीहत देती है कि जुनून को जानलेवा न बनने दें. ट्रेन के साथ तो किसी भी तरह का स्टंट हरगिज़ न करें. क्योंकि ऐसा जुनून आपकी जान ले सकता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें