scorecardresearch
 

सीलमपुर-जफराबाद हिंसा पर दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल और जांच एजेंसियों की नजर

घटना का वीडियो बनाने वाला युवक भी पत्थरबाजी में शामिल था. पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया है. हिरासत में लिए गए शख्स से पूछताछ की जा रही है.

प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर

  • संदिग्ध धमाके में जिस शख्स का हाथ फटा, पुलिस ने की पहचान
  • पुलिस ने वीडियो बनाने वाले युवक को भी लिया हिरासत में

नागरिकता संशोधन एक्ट (CAA) के खिलाफ देश के कई शहरों में प्रदर्शन जारी है. प्रदर्शन को देखते हुए कई हिस्सों में धारा 144 लगा दी गई. इस बीच सीलमपुर हिंसा के वक्त का एक ऐसा वीडियो सामने आया है जिसने दिल्ली पुलिस समेत जांच एजेंसियों के कान खड़े कर दिए हैं. वीडियो सीलमपुर थाने के पुलिस बूथ का है जिसको भीड़ ने आग के हवाले कर दिया था और वहां मौजूद बाइक को भी आग लगा दी थी. इसी दौरान यहां एक जोरदार संदिग्ध धमाका होता है और भगदड़ मच जाती है. वहां मौजूद लोग चिल्लाते हैं, 'हाथ उड़ गया, हाथ उड़ गया...'

वीडियो का सच?

यही नहीं उस वीडियो में भीड़ में एक लड़का भागता हुआ दिखाई देता है, जिसका धमाके से कपड़ा फट गया है और हाथ भी जख्मी है. वहीं पुलिस को आशंका है कि ये पेट्रोल बम से अटैक करने के वक्त ही इस लड़के के हाथ में ही बम फट गया होगा और जिससे बड़ा धमाका हुआ. इस धमाके में ही हाथ उड़ गया होगा. बताया जा रहा कि जो युवक पेट्रोल बम से हमला करने की फिराक में था उसकी तलाश की जा रही है.

ज्वाइंट सीपी ईस्टर्न रेंज आलोक कुमार के मुताबिक संदिग्ध धमाके में जिस शख्स का हाथ फटा था पुलिस ने उसकी पहचान कर ली है. पुलिस ने बताया कि उस युवक का नाम रईस है. पुलिस ने रईस को जीटीबी अस्पताल में हिरासत में लिया. फिलहाल उससे पूछताछ जारी है. साथ ही वीडियो बनाने वाले को भी हिरासत में लिया गया है.

पुलिस कर रही जांच

जानकारी के मुताबिक घटना का वीडियो बनाने वाला युवक भी पत्थरबाजी में शामिल था. पुलिस ने उसको हिरासत में ले लिया है. हिरासत में लिए गए शख्स से पूछताछ की जा रही है. वहीं सीलमपुर, जफराबाद और दयालपुर में हुए हिंसा पर दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल भी अपनी नजर बनाए हुए है और कई इनपुट मिले हैं उस पर जांच चल रही है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें