scorecardresearch
 

पुलिस का दावा- छोटे भाई ने ही कराई थी TPS कॉलेज के प्रोफेसर की हत्या

आरोपी वीरेंद्र राम के अपनी भाभी से अवैध संबंध थे. जिसके चलते, आए दिन इस मामले को लेकर दोनों भाइयों में झगड़ा होता रहता था. जिसके बाद छोटे भाई ने ही सुपारी देकर अपने भाई की हत्या करवा दी.

पुलिस ने किया आरोपी भाई को गिरफ्तार पुलिस ने किया आरोपी भाई को गिरफ्तार

  • भाभी से अवैध संबंध के कारण छोटे भाई ने ही कराई थी हत्या
  • 6 लोगों की गिरफ्तारी, हत्या में इस्तेमाल हथियार भी हुआ बरामद

पटना पुलिस ने कंकड़बाग में प्रोफेसर शिव नारायण राम हत्याकांड का खुलासा कर दिया है. प्रोफेसर शिव नारायण राम की 29 जनवरी को दिन दहाड़े घर से टीपीएस कॉलेज जाते हुए गोली मार कर दी गई थी. पुलिस ने इस हत्याकांड के मुख्य साजिशकर्ता प्रोफेसर के छोटे भाई वीरेंद्र राम को धर दबोचा. उसके बाद इस हत्याकांड की एक-एक कड़ी खुलकर सामने आ गई.

पुलिस के मुताबिक आरोपी वीरेंद्र राम के अपनी भाभी से अवैध संबंध थे. जिसके चलते, आए दिन इस मामले को लेकर दोनों भाइयों में झगड़ा होता रहता था. जिसके बाद छोटे भाई ने ही सुपारी देकर अपने भाई की हत्या करवा दी. बताया जाता है कि वीरेंद्र राम मर्चेंट नेवी में काम करता है. पुलिस ने इस हत्याकांड में शामिल सभी 6 अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया है.

ये भी पढ़ें-कई हिंदू परिवार पहुंचे अटारी बॉर्डर, बताया- क्यों छोड़ना चाहते हैं पाकिस्तान

वहीं इस मामले के मुख्य आरोपी वीरेंद्र राम को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. साथ ही आरोपियों के पास से दो वाहन, हत्या में इस्तेमाल रिवाल्वर भी बरामद कर ली गई है. बताया जा रहा है कि आरोपी वीरेंद्र राम ने 2 लाख रुपये फिरौती दी थी. जिसके बाद 2 महीने की प्लानिंग के बाद सुपारी किलर ने हत्या की घटना को अंजाम दिया था. फिलहाल सभी आरोपी पुलिस की गिरफ्त में हैं. पुलिस के मुताबिक छोटे भाई ने ही हत्या की पूरी प्लानिंग की. उसने ही पांच लोगों को मिलाया और 2 लाख रुपये की सुपारी दी.

ये भी पढ़ें-दिल्ली की जनता ने आजतक पर बनाया अपना मेनिफेस्टो, ये हैं 10 सबसे बड़े मुद्दे

एसएसपी पटना उपेंद्र शर्मा ने बताया, '29 जनवरी को प्रो शिव नारायण राम की हत्या कंकड़बाग इलाके में गोली मार कर दी गई थी. इसके लिए पुलिस की एक टीम बनाई गई. जांच में पाया गया कि इस हत्याकांड के तार उनके घर से ही जुड़े हुए हैं. जब पूछताछ की गई तो पता चला कि प्रो. शिव नारायण राम की हत्या की साजिश किसने रची थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें